शिवराज के सामने खिला 'कांग्रेस का कमल', संतों और विपक्षी दलों के बीच कमलनाथ की शपथ

Dec 17 2018 02:48 PM
शिवराज के सामने खिला 'कांग्रेस का कमल', संतों और विपक्षी दलों के बीच कमलनाथ की शपथ

भोपाल : मध्यप्रदेश में आज राजधानी के जंबूरी मैदान में कांग्रेस के दिग्गज नेता कमलनाथ ने संतों के मंत्रोच्चार के बाद विधिवत रूप से मध्यप्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ले ली. इसी के साथ कांग्रेस का मध्यप्रदेश में 15 साल का वनवास भी खत्म हो गया. शहर के जंबूरी मैदान में हुए शपथ ग्रहण समारोह में कांग्रेस ने मोदी सरकार के खिलाफ एकजुटता का काफी खूबसूरत नजारा पेश किया. इस दौरान राहुल गांधी और पूर्व पीएम डॉ मनमोहन सिंह समेत कई विपक्षी नेता भी मौजूद रहें. 

शपथ ग्रहण समारोह में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, पूर्व पीएम एडी देवगौड़ा, आंध्रप्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू, एनसीपी के शरद पवार, नेशनल कॉन्फ्रेंस के फारुख अब्दुल्ला, एमके स्टालिन, शरद यादव, तेजस्वी यादव और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आदि  शामिल रहें. वहीं इस दौरान पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान भी मंच पर नजर आए. 

आपको ज्ञात हो कि 11 दिसंबर को आए चुनावी नतीजों में मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव 2018 में कांग्रेस सबसे बड़े दल के रूप में उभरी. 230 सीट वाली मध्य प्रदेश विधानसभा में उसने कुल 114 सीटें हासिल की. जबकि भाजपा महज 109 सीटों पर सिमट गई. इस तरह कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनी. कांग्रेस यहां दो सीटों से बहुमत से दूर रही और अंततः उसे बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी का समर्थन मिला. जहां उसका बहुमत का आंकड़ा पार हो गया और कांग्रेस ने 15 साल के भाजपा के राज को ध्वस्त कर सरकार बनाई. 

राजस्थान के बाद बाद भोपाल पहुंची दिग्गजों की टोली, 15 साल बाद खिलाएंगी कांग्रेस का 'कमल'

सिख दंगा: सज्जन कुमार को मिली सजा पर बोले जेटली, दूसरे दोषी को आज सीएम बना रही कांग्रेस

राजस्थान के बाद बाद भोपाल पहुंची दिग्गजों की टोली, 15 साल बाद खिलाएंगी कांग्रेस का 'कमल'