कालराज मिश्र बने हिमाचल प्रदेश के नए गवर्नर, मोदी सरकार में रह चुके हैं मंत्री

कालराज मिश्र बने हिमाचल प्रदेश के नए गवर्नर, मोदी सरकार में रह चुके हैं मंत्री

शिमला:  मोदी सरकार में मंत्री रहे कलराज मिश्र को राष्‍ट्रपति ने हिमाचल प्रदेश का राज्‍यपाल बनाया गया है. वहीं दूसरी ओर हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत का स्‍थानांतरण कर गुजरात का राज्‍यपाल नियुक्त किया गया है. राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद के आदेश के अनुसार, कार्यभार संभालने की तारीख से इनकी नियुक्ति प्रभावी मानी जाएगी. 2019 के लोकसभा चुनाव में मोदी सरकार के लगातार दूसरी बार सत्‍ता में वापसी करने के बाद गवर्नर के पद पर इस तरह की यह पहली बड़ी नियुक्ति है.

कलराज मिश्र इससे पहले मोदी सरकार में 2017 तक सूक्ष्‍म, लघु और उद्यम मंत्री (एमएसएमई) के पद पर रहे थे. वे तीन बार राज्‍यसभा के सदस्य भी रहे. 2019 के चुनाव से पूर्व उन्‍होंने इस बार का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा करते हुए कहा था कि पार्टी ने कई अन्‍य अहम जिम्‍मेदारियां उनको सौंपी हैं, लिहाजा उनको पूरा करने के लिए वह लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ेंगे.

आपको बता दें कि 2014 के बाद 75 वर्ष से अधिक उम्र के कई वरिष्‍ठ नेता सक्रिय राजनीति से रिटायर हो गए थे. इसी आधार पर 2017 में कलराज मिश्र ने मंत्री पद से त्यागपत्र दे दिया था. वहीं दूसरी ओर आचार्य देवव्रत गैर-राजनीतिक पृष्‍ठभूमि से ताल्लुक रखते हैं. वे 2015 में हिमाचल प्रदेश के राज्‍यपाल बनाए गए थे. 

इमरान खान और डोनाल्ड ट्रम्प करने वाले हैं मुलाकात, पाक मंत्री बोले- अल्लाह खैर करे

नेपाल और बांग्लादेश में बाढ़ का प्रकोप, 65 की मौत, लाखों विस्थापित

बाढ़ को लेकर बिहार में सियासत तेज़, राबड़ी देवी ने नितीश कुमार पर साधा निशाना