मैदा और ब्रेड को बच्चों के लिए कैलाश विजयवर्गीय ने बताया जहर, बटवाने में लगे हैं बेटे आकाश

इंदौर: कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर का डर अब बढ़ने लगा है। ऐसे में सरकार बच्चों को बचाने के लिए तैयारियां करने में लग चुकी है। अब इस बीच, भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने एक बयान दिया है। हाल ही में उन्होंने अपने बयान में बच्चों में इम्यूनिटी बनाए रखने के लिए ब्रेड और मैदे से बनी चीजें नहीं खाने की सलाह दी है। वही दूसरी तरफ उनके पुत्र विधायक आकाश विजयवर्गीय अपने विधानसभा क्षेत्र में बच्चों को ऐसी ही तमाम चीजें बंटवा रहे हैं। जी दरअसल हाल ही में कैलाश विजयवर्गीय ने कोरोना जागरूकता रथ का शुभारंभ किया था।

वहीं इस दौरान उन्होंने कहा, 'कोरोना से बचने के लिए अब सभी को अनुशासन से रहना पड़ेगा। बच्चों को भी संक्रमण से बचाने के लिए प्रोटोकॉल बनाना होगा। इसके अलावा बच्चों को मैदे से बनी चीजें ब्रेड और मैगी नहीं खिलाना है, क्योंकि यह बच्चों के लिए जहर हैं।'' इसी के साथ विजयवर्गीय का कहना यह भी था कि, ''बच्चों को क्या खिलाना है, यह डॉक्टर के मार्गदर्शन में प्रोटोकॉल तय होना चाहिए। उसी हिसाब से बच्चों को भोजन कराना चाहिए।''

हालाँकि उनकी इस नसीहत के सप्ताह भर बाद ही कुछ ऐसा हुआ कि देखकर हैरानी हो रही है। जी दरअसल उनके पुत्र ने अपनी विधानसभा क्षेत्र में तमाम बच्चों को केक और ब्रेड वितरण कराना शुरू कर दिया है। इसी के साथ उनकी विधानसभा क्षेत्र की गरीब बस्तियों के बच्चों को बीते दिन से ही केक का वितरण शुरू करा दिया है। केवल यही नहीं बल्कि आकाश विजयवर्गीय ने अपने विधानसभा क्षेत्र के कई बच्चों को घर-घर जाकर केक का वितरण किया है। आप सभी को बता दें कि बीते साल से अब तक आकाश विजयवर्गीय अपने विधानसभा क्षेत्र में केक और चॉकलेट के पैकेट लगातार बंटवाते आ रहे हैं।

'अन्ना नहीं ये आंधी है, देश का दूसरा गांधी है'।।।जब समाजसेवी हज़ारे के समर्थन में उतर आया था पूरा देश

नेहा संग पुरानी तस्वीर शेयर कर बोले टोनी कक्क्ड़- 'वो बिना सोई दर्दभरी खूबसूरत रातें'

खुशखबरी! लॉकडाउन खुलते ही अक्षय कुमार की फिल्म 'बेल बॉटम' देगी सिनेमाघरों में दस्तक, इस दिन होगी रिलीज

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -