कामिका एकादशी व्रत के दौरान भूलकर भी न करें ये गलतियां

Aug 07 2018 11:05 AM
कामिका एकादशी व्रत के दौरान भूलकर भी न करें ये गलतियां

वैसे तो साल के 12 महीने में कई एकादशी आती है लेकिन जो सावन के महीने में एकादशी आती है उसे बेहद महत्वपूर्ण माना गया है. सावन के महीने में आने वाली एकादशी को कामिका एकादशी कहा जाता है. इस एकादशी का व्रत पापों से मुक्ति दिलाता है. इस बार कामिका एकादशी 7 अगस्त यानिकि आज मंगलवार के दिन है. शास्त्रों के मुताबिक़ सावन में आने वाली कामिका एकादशी व्रत के दौरान विष्णु भगवान की पूजा की जाती हैं. इस व्रत को करने से देवता, गंधर्व और सूर्य आदि सब पूजित हो जाते हैं.

पूजा विधि :

इस दिन आप सुबह स्नान करने के भगवान विष्णु का ध्यान करें और विष्णु का फल-फूल, तिल, दूध, पंचामृत आदि से अभिषेक करें. इस दिन आप गरीबों को भोजन करवाए. इस व्रत में आप भूलकर भी न सोये. अगर आप इस व्रत को पूरे विधि विधान के साथ करते हैं तो कामिका एकादशी व्रत से आपकी हर मनोकामना पूर्ण हो जाएगी. इस दिन आप भगवान विष्णु को पीले रंग के वस्त्र अर्पित करें. इस दौरान तीर्थस्थानों में स्नान करने और दान करने से अश्वमेघ यज्ञ के समान फलप्राप्ति होती है.

कामिका एकादशी के दिन न करें ये काम : जो भी व्यक्ति इस दिन व्रत रखता है उसे भूलकर भी लहसुन, प्याज, बैंगन, मांस-मदिरा, पान-सुपारी और तंबाकू का सेवन नहीं करना चाहिए. व्रत के दौरान आप खाने में नमक का इस्तेमाल न करें.

ये भी पढ़े

सावन में आने वाले 'मंगला गौरी व्रत' का महत्व

जानिए कितने बुलंद हैं आज आपकी किस्मत के सितारे

सावन में बुलाएं बेटी को अपने घर, होंगे कई लाभ

?