जल्द ही शुरू होने वाली है ICC की मीटिंग

आईसीसी मीटिंग के लिए बस 4 दिन का वक्त बाकी है जिसमें ये फैसला लिया जाएगा कि ऑस्ट्रेलिया में इस साल अक्टूबर- नवंबर के महीने से होने वाले टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन किया जाएगा या नहीं. कई सूत्रों से ये भी पता चला है कि ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड इस साल होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के पक्ष में नहीं है. वहीं पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान मार्क टेलर को भी लगता है कि कोरोना संकट के बीच टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन बेहद मुश्किल है.

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के लिए क्यों है ये नामुमकिन?: 13 सितंबर तक ऑस्ट्रेलिया में कोरोना के चलते ट्रैवल पर बैन लगा हुआ है. ऐसे में अक्टूबर के पहले हफ्ते में सभी टीमों को वहां पहुंचना होगा. हर टीम यानी की 16 टीमों में शामिल 30 सदस्य जिसमें खिलाड़ी, सपोर्ट स्टाफ इस सफर में शामिल होंगे जिसके चलते ये दौरा किसी भी टीम के लिए बेहद मुश्किल साबित हो सकता है. अगर खिलाड़ी बिना दर्शकों के भी मैच खेलते हैं तो पत्रकार, कमेंटेटर और टूर्नामेंट से जुड़े दूसरे लोगों को यहां पहुंचना ही होगा. 15 विदेशी टीमों को 7 शहरों में संभालना और 45 मैचों का आयोजन करना ऑस्ट्रेलिया के लिए बेहद मुश्किल साबित होगा.

कौन जीतेगा और कौन हारेगा?: अगर टी20 टूर्नामेंट इस साल नहीं होता है तो आईसीसी को इसका अच्छा खासा नुकसान होगा. ऐसे में बीसीसीआई को आईपीएल का आयोजन करवाने के लिए मुफ्त विंडो मिल जाएगा. हालांकि अभी तक ऑस्ट्रेलिया की तरफ से ऐसा बयान नहीं आया है कि वो अपने खिलाड़ियों को आईपीएल के लिए भारत भेजेंगे या नहीं लेकिन ज्यादातर ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी पहले ही ये कह चुके हैं कि वो आईपीएल खेलेंगे. वहीं क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ केविन रॉबर्ट्स ने कुछ दिनों पहले ये कहा था कि इस साल के अंत में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच होने वाली सीरीज के आसार बेहद ज्यादा हैं और ऐसे में अगर ऐसा होता है तो क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को टेलिकास्ट राइट्स का ढेर सारा रेवेन्यू मिल जाएगा.

इस साल नहीं होगा टी20 वर्ल्ड कप तो क्या हैं आसार?: यहां पर फैंस के लिए तीन मौके बनेंगे

1. इंग्लैंड की टीम फरवरी में भारत का दौरा करने वाली है ऐसे में यहां एक चांस बन सकता है जो काफी मुश्किल लग रहा है.

2. अक्टूबर- नवंबर 2021- यहां पहले ही भारत में टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन होने वाला है. ऐसे में अगर बीसीसीआई अगर चाहेगी तो वो इस साल इस टूर्नामेंट का आयोजन न करके ये विंडो ऑस्ट्रेलिया को दे सकती है और फिर बीसीसीआई 2022 में ऐसा कर सकती है.

3. ऑस्ट्रेलिया 2022 में इस टूर्नामेंट का आयोजन कर सकता है जिसके आसार ज्यादा दिख रहे हैं.

सरकार ने ला लीगा को इस दिन से गेम खेलने की दी मंज़ूरी

खिलाड़ियों के घर जाने पर हॉकी इंडिया ने रखी ये शर्त

राजीव मेहता का बड़ा बयान, कहा- 'खिलाड़ी हमारी संपत्ति हैं...'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -