अब महाराष्ट्र के किसी भी स्कूल में नहीं मिलेगा जंक फ़ूड, सरकार ने जारी की गाइडलाइन्स

Jul 19 2019 02:33 PM
अब महाराष्ट्र के किसी भी स्कूल में नहीं मिलेगा जंक फ़ूड, सरकार ने जारी की गाइडलाइन्स

मुंबई: महाराष्ट्र के 10 हजार स्कूल-कॉलेजों की कैंटिन से अब जंक फ़ूड धीरे धीरे पूरी तरह से ख़त्म हो जाएगा. महाराष्ट्र फूड एंड ड्रग एडमिनिशट्रेशन ने स्कूल-कॉलेजों की कैंटिन के लिए गाइडलाइंस निर्धारित करने के बाद, इसे लागू करने के लिए जागरूकता अभियान चालू किया है, जिसका उद्देश्य है हेल्दी फूड को अधिक से अधिक बढ़ावा देना. 

स्कूली बच्चों में मोटापा, दांत की बिमारी और डायबिटीज जैसी बीमारियों में तेजी से वृद्धि को देखते हुए महाराष्ट्र FDA ने प्रदेश भर के 10 हजार स्कूल कॉलेजों से जंक फूड हटाकर हेल्दी फूड शामिल करने के लिए गाइडलाइंस जारी करने के बाद, अब हेल्दी फूड का सेवन करने को लेकर जागरुकता अभियान भी शुरू कर दिया है. वर्ष के अंत तक पूरे प्रदेश में बच्चों की कैंटिन में हेल्दी फूड को लेकर जागरूकता अभियान चलाएगा जाएगा. महाराष्ट्र FDA ने स्कूल-कॉलेजों की कैंटिंन को अपना मैन्यू बदलने को कहा है और स्कूलों के मैन्यू से जंक फूड को बाहर करने के निर्देश दिए हैं.

इस तरह की गाइडलाइंस जारी करने वाला महाराष्ट्र देश भर में पहला राज्य है और प्रदेश सरकार का प्रत्येक स्कूल कॉलेजों में फूड टेस्टिंग लैब्स भी स्थापित करने का भी प्लान है. जंक फूड में हाई फैट, हाई शुगर, हाई सॉल्ट से फूड से बच्चों में बीमारियों का खतरा बढ़ रहा है. इसलिए स्कूलों की कैंटिंन का मैन्यू बदलने के लिए कहा और FDA की गाइडलाइंस के अनुसार प्रोटीन युक्त पोष्टिक आहार को शामिल करने के लिए कहा गया है. 

रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची सोने की कीमत, चांदी में भी ऐतिहासिक उछाल

चंद्रबाबू नायडू को एक और झटका, वर्ल्ड बैंक ने $ 300 मिलियन फंडिंग करने से किया मना

चार साल में दोगुनी हुई केंद्र सरकार की पेट्रोल-डीजल से कमाई