+

जंक फ़ूड से होती हैं कई घातक बीमारियां, जान लें

जंक फ़ूड से होती हैं कई घातक बीमारियां, जान लें

आज कल लोग घर का खाने की बजाय पिज़्ज़ा, बर्गर, कोल्ड ड्रिंक, मोमोस, केक, डोनट्स, आदि जंक फ़ूड खाना पसंद करते हैं. यानि जंकफूड हर कोई खाता है पर ये आपकी सेहत के लिए कितना नुकसान करता है ये आप नहीं जानते होंगे. जंक फ़ूड को बनाने के लिए मैदा, सोडियम, अधिक मीठा, फैट, वसा आदि का इस्तेमाल किया जाता है और भी कुछ चीजों का इस्तेमाल किया जाता है जिससे इसके स्वाद और रंग को आकर्षित करने वाला बनाया जाता हैं. जिसका ज्यादा सेवन करने से आपके शरीर को बहुत नुकसान होते हैं. और इससे शरीर में कैलोरी बढ़ती है, बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है जिससे आपको बहुत सी स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्या हो जाती है. आज हम इसी से होने वाले नुकसान के बारे में बताने जा रहे हैं. 

पेट से सम्बंधित समस्या
जंक फ़ूड खाने का सबसे बुरा प्रभाव आपकी पाचन क्रिया पर पड़ता है. जिसके कारण आपको कब्ज़, एसिडिटी, गैस और कई बार दर्द का होना सामान्य बात होती है. साथ ही इसके अधिक सेवन से बॉडी को पर्याप्त मात्रा में फाइबर नहीं मिलता है जिसके कारण आपको भोजन को हज़म करने में भी कठिनाई होती है और हमेशा आपको पेट सम्बंधित कोई न कोई समस्या लगी रहती है.

कमजोरी व थकान की समस्या
एक बार पेट भरने के लिए जब आप जंक फ़ूड का सेवन करते हैं तो इससे आपका पेट तो भर जाता है. लेकिन आपके शरीर में ऊर्जा को भरपूर रखने के लिए प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट जैसे पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं. जिसके कारण बॉडी में ऊर्जा का संचार नहीं होता है नतीजा आपको जल्दी थकान व शरीर में कमजोरी जैसी समस्या का समाना करना पड़ता है.

तनाव
जी हाँ तनाव का एक कारण आपका अधिक मात्रा में जंक फ़ूड का सेवन करना भी हो सकता है. क्योंकि इसके सेवन से आपके शरीर में हार्मोनल असंतुलन होता है जिसके कारण आपके मूड में बदलाव आना आम बात होती है. ऐसे में कई बार तनाव की समस्या का सामना आपको करना पड़ सकता है. लेकिन यदि आप संतुलित व पौष्टिक तत्वों से भरपूर आहार का सेवन करते हैं तो इससे आपके शरीर में हार्मोनल बैलेंस बना रहता है.

हदय रोग
सोडियम का अधिक मात्रा में सेवन हदय सम्बन्धी परेशानियों को आमंत्रित करता है. और जंक फ़ूड में सोडियम बहुत अधिक मात्रा में होता है जिसके कारण आपको हदय सम्बन्धी समस्या, ब्लड प्रैशर से जुडी परेशानी, स्ट्रोक का खतरा होने की सम्भावना बढ़ जाती है. ऐसे में आपको इस परेशानी से बचने के लिए जंक फ़ूड का सेवन अधिक नहीं करना चाहिए.

मस्तिष्क पर बुरा प्रभाव पड़ता है 
दिमाग की एक्टिविटी जिसे पेप्टाइड कहते हैं उच्च मात्रा में जंक फ़ूड का सेवन करने से कम होने लगती है, क्योंकि जंक फ़ूड में फैट और शुगर की मात्रा अधिक होती है. ऐसे में आपकी यादाश्त कमजोर होने लगती है, चीजे ध्यान नहीं रहती है, और भी मस्तिष्क की प्रक्रियाओं पर असर पड़ता है. ऐसे में आपको जंक फ़ूड के अधिक सेवन से परहेज करना चाहिए.

साइलेंट हार्ट अटैक है ज्यादा खतरनाक, जानें इसके लक्षण

टाइफॉइड ठीक करने में तुलसी आएगी काम

ज्यादा देर तक ना रोके यूरिन, ये हो सकता है नुकसान