दमकती स्किन के लिए जूस

दमकती स्किन के लिए जूस

अच्छी स्किन के लिए जूस पीना हमेशा फायदेमंद होता है। यहां हम बता रहे हैं आपकी स्किन की टाइप के मुताबिक जूस और उनके फायदे।

ऑयली स्किन : टोमैटो जूस

टोमैटो जूस ऑयली स्किन के लिए हमेशा ही अच्छी होती है। टमाटर एक्ने को दूर करने के लिए बेनिफि शल होता है। यह सेल्युलर लेवल पर ही एक्ने को खत्म कर डालता है। जूस के फार्म मे यह ओरल सनस्क्रीन की तरह से काम करता है और हार्मफुल यूवी रेज से बचाता है। यही नहीं, टोमैटो जूस में लाइसोपीन मौजूद होता है, जो एंटीऑक्सिडेंट की तरह से काम करता है। लाइसोपीन कैंसर से भी लडऩे की क्षमता रखता है। एक टेबल स्पून अपने फेस और नेक पर लगाकर पांच मिनट तक छोड़ दें। फिर ठंडे पानी से धो लें। इससे स्किन की गंदगी बाहर आ जाएगी।

मेच्योर स्किन : कैरोट जूस

कैरोट जूस विटामिन 'ए’ का बेहतरीन सोर्स हैं। चूंकि मेच्योर स्किन ड्राई और रिंकल वाली हो जाती है, उसे विटामिन ए की जरूरत होती है। कैरोट में भी एंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं, जो स्किन सेल्स को प्रोटेक्ट करते हैं। ऐजिंग के साथ स्किन पिग्मेंअेशन प्रोन हो जाती है। तब ये एंटीऑक्सिडेंट स्किन की इयूनिटी बढ़ाते हैं। बता दें कि कैरोट जूस में फाईबर, बायोटीन, विटामिन के, सी और बी-6 भी मौजूद होते हैं।

सेंसिटिव स्किन : लेमन जूस

ऐसी स्किन को हमेशा डिटॉक्सिफाई करने की जरूरत पड़ती है। लेमन में लीवर को डिटॉक्सिफाई करने की पावर होती है। जिससे कॉप्लेक्श क्लियर होता है।

ड्राई स्किन : कुकंबर या एलोवेरा जूस

डार्क स्पॉट्स को रिमूव करने में ककंबर जूस सबसे ज्यादा काम आते हैं। ये स्पॉट्स ड्राई स्किन में कॉमन होते हैं। यह जूस अंडर आई डार्क सर्कल्स को भी कम करता है। जबकि एलोवेरा जूस में मेडिसिनल प्रॉपर्टीज होती हैं, जो स्किन को हाइड्रेट करती हैं।अच्छी स्किन के लिए जूस पीना हमेशा फायदेमंद होता है। यहां हम बता रहे हैं आपकी स्किन की टाइप के मुताबिक जूस और उनके फायदे।

ऑयली स्किन : टोमैटो जूस

टोमैटो जूस ऑयली स्किन के लिए हमेशा ही अच्छी होती है। टमाटर एक्ने को दूर करने के लिए बेनिफि शल होता है। यह सेल्युलर लेवल पर ही एक्ने को खत्म कर डालता है। जूस के फार्म मे यह ओरल सनस्क्रीन की तरह से काम करता है और हार्मफुल यूवी रेज से बचाता है। यही नहीं, टोमैटो जूस में लाइसोपीन मौजूद होता है, जो एंटीऑक्सिडेंट की तरह से काम करता है। लाइसोपीन कैंसर से भी लडऩे की क्षमता रखता है। एक टेबल स्पून अपने फेस और नेक पर लगाकर पांच मिनट तक छोड़ दें। फिर ठंडे पानी से धो लें। इससे स्किन की गंदगी बाहर आ जाएगी।

मेच्योर स्किन : कैरोट जूस

कैरोट जूस विटामिन 'ए’ का बेहतरीन सोर्स हैं। चूंकि मेच्योर स्किन ड्राई और रिंकल वाली हो जाती है, उसे विटामिन ए की जरूरत होती है। कैरोट में भी एंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं, जो स्किनसेल्स को प्रोटेक्ट करते हैं। ऐजिंग के साथ स्किन पिग्मेंअेशन प्रोन हो जाती है। तब ये एंटीऑक्सिडेंट स्किन की इयूनिटी बढ़ाते हैं। बता दें कि कैरोट जूस में फाईबर, बायोटीन, विटामिन के, सी और बी-6 भी मौजूद होते हैं।

सेंसिटिव स्किन : लेमन जूस

ऐसी स्किन को हमेशा डिटॉक्सिफाई करने की जरूरत पड़ती है। लेमन में लीवर को डिटॉक्सिफाई करने की पावर होती है। जिससे कॉप्लेक्श क्लियर होता है।

ड्राई स्किन : कुकंबर या एलोवेरा जूस

डार्क स्पॉट्स को रिमूव करने में ककंबर जूस सबसे ज्यादा काम आते हैं। ये स्पॉट्स ड्राई स्किन में कॉमन होते हैं। यह जूस अंडर आई डार्क सर्कल्स को भी कम करता है। जबकि एलोवेरा जूस में मेडिसिनल प्रॉपर्टीज होती हैं, जो स्किन को हाइड्रेट करती हैं।