चुनाव के बाद हिंसा के बीच बंगाल पहुंचे जेपी नड्डा

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद हिंसा की सूचना दी, जो 'भारत के विभाजन के दौरान हुई घटनाओं' के समान है। बंगाल में भाजपा समर्थकों के लिए भयानक आतंक के बाद नड्डा दो दिवसीय दौरे पर कोलकाता पहुंचे। इस यात्रा का उद्देश्य पूर्वी राज्य की स्थिति का जायजा लेना है।

 

 

जबकि कोलकाता पुलिस ने मंगलवार को प्रदेश भाजपा मुख्यालय के पास जेपी नड्डा के कार्यक्रम के लिए निर्धारित मंच को तोड़ दिया। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष का प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष के साथ धरना-प्रदर्शन का कार्यक्रम था। यह बुधवार सुबह के लिए निर्धारित किया गया था। अब हेस्टिंग्स कार्यालय में धरना दिया जाएगा। नड्डा के कोलकाता पहुंचने के तुरंत बाद हवाई अड्डे पर संवाददाताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, पश्चिम बंगालों के चुनावों के नतीजों के बाद हमने जो घटनाएं देखी हैं, उससे हमें झटका लगता है और हम चिंतित हैं । मैंने भारत के विभाजन के दौरान ऐसी घटनाओं के बारे में सुना था। हमने स्वतंत्र भारत में एक जनमत सर्वेक्षण के परिणामों के बाद ऐसी असहिष्णुता कभी नहीं देखी थी।

 

 

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा कि उन्हें राज्य के हालात को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का फोन आया। धनखड़ ने सोमवार को पुलिस महानिदेशक को 'चिंताजनक' कानून व्यवस्था की स्थिति पर चर्चा के लिए बुलाया था। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा कि उसने इस मामले को लेकर पश्चिम बंगाल सरकार से रिपोर्ट मांगी थी।

पंचायत चुनाव के नतीजे आने के बाद सीएम योगी ने दी ये प्रतिक्रिया

तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने पर दीदी को प्रधानमंत्री मोदी ने कुछ इस तरह दी बधाई

हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा- ममता बनर्जी का गुंडा राज है खौफनाक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -