कोर्ट में पिटाई के विरोध में पत्रकारों ने निकाला सुप्रीम कोर्ट तक मार्च

Feb 16 2016 03:17 PM
कोर्ट में पिटाई के विरोध में पत्रकारों ने निकाला सुप्रीम कोर्ट तक मार्च

नई दिल्ली : जेएनयू में शुरु हुए विवाद ने पूरे देश में काली घटा ला दी है। मंगलवार की सुबह दिल्ली यूनिवर्सिटी के पूर्व प्रोफेसर एस आर गिलानी को अरेस्ट कर लिया गया। उन पर आरोप है कि उन्होने प्रेस क्लब में अफजल के पक्ष में कार्यक्रम किया। पटियाला हाउस कोर्ट में हुई पिटाई के विरोध में करीब 200 पत्रकार उतर आए।

दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि गिलानी से सोमवार रात पार्लियामेंट स्ट्रीट पुलिस स्टेशन में पूछताछ शुरु कर दी गई है। 9 फरवरी को हुए प्रोग्राम व वहां हुई नारेबाजी से जुड़े वीडियो सामने आए है। 10 फरवरी को भी अफजल के सपोर्ट में दिल्ली प्रेस क्लब में एक प्रोग्राम के दौरान नारेबाजी हुई थी।

वहां मौजूद गिलानी ने अपने सपोर्टर्स को चुप नहीं कराया था। अरेस्ट करने के बाद आरएमएल हॉस्पिटल ले जाकर पुलिस ने उसका मेडिकल कराया। दोपहर बाद उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा। बता दें कि गिलानी पर संसद हमले में शामिल होने का भी आरोप लगा था।

हालांकि, सबूतों की कमी के चलते उसे बाद में बरी कर दिया गया था। दूसरी ओर जेएनयू विवाद पर चर्चा के लिए अरविंद केजरीवाल गृह मंत्री राजनाथ सिंह के पास पहुंचे। पिटाई के खिलाफ में पत्रकारों ने प्रेस क्लब से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक मार्च निकाला। जेएनयू के बाहर हिंदू संगठनों ने प्रदर्शन किया।