ईरान समझौता रद्द हुआ तो हमारा समर्थन नहीं करेंगे भारत व अन्य देश : अमेरिका

ईरान समझौता रद्द हुआ तो हमारा समर्थन नहीं करेंगे भारत व अन्य देश : अमेरिका

वाशिंगटन : अमेरिका के विदेश मंत्री जॉन केरी ने आज कांग्रेस को चेतावनी दी है कि यदि अमेरिकी सांसद ईरान के साथ परमाणु मुद्दे पर हुए समझौते को मंजूरी नहीं देते हैं तो भारत, चीन और जापान जैसे देश अमेरिका का समर्थन नहीं करेंगे. क्योंकि ये देश ईरान के तेल के प्रमुख आयातक हैं. केरी ने फिलाडेलफिया में ईरान परमाणु समझौते पर कहा कि कांग्रेस के सदस्यों का ये सोचना गलत है कि वे इस योजना को गिराने के लिए मतदान कर सकते हैं और उसके बाद भी चीन, दक्षिण कोरिया, तुर्की, भारत जैसे देश उनकी बात स्वीकार करेंगे जो ईरान के तेल के प्रमुख ग्राहक हैं.

उन्होंने कहा कि हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि पाबंदियों की वजह से जिस धन को रोक लिया गया है, वह अमेरिकी सरकार के नियंत्रण वाले बैंकों में नहीं है. यह धन ‘एस्क्रो’ में रोका गया है और उन देशों ने रोका है जिनके साथ ईरान के वाणिज्यक लेनदेन हैं.