JNU के स्टूडेंट्स ने की यूनिवर्सिटी की लाइब्रेरी में तोड़फोड़, गार्ड के साथ भी मारपीट के आरोप

Jun 10 2021 03:28 PM
JNU के स्टूडेंट्स ने की यूनिवर्सिटी की लाइब्रेरी में तोड़फोड़, गार्ड के साथ भी मारपीट के आरोप

नई दिल्ली: जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) की लाइब्रेरी में तोड़फोड़ का मामला प्रकाश में आया है. कोरोना महामारी की वजह से पुस्तकालय बंद है. कुछ छात्र चाहते थे कि लाइब्रेरी खोली जाए ताकि वे पढ़ सकें. बुधवार को गार्ड के साथ बहस के बाद विवाद शुरू हो गया. इस दौरान लाइब्रेरी के शीशे तोड़ दिए गए. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है.

बताया जा रहा है कि 30 से अधिक स्टूडेंट जो लाइब्रेरी के अंदर घुसना चाहते थे. सुरक्षा गार्डों ने उन्हें रोका तो छात्रों ने गार्ड पर भी हमला किया गया. इस दौरान लाइब्रेरी के शीशे टूट गए. पुलिस ने 188 (सरकारी आदेश का उल्लंघन) और महामारी अधिनियम की धारा 3 के तहत केस दर्ज किया है. आगे की जांच जारी है. पुलिस ने कहा कि 35-40 स्टूडेंट्स का एक समूह पुस्तकालय के बाहर जमा हुआ, जो महामारी के कारण छात्रों के लिए बंद है, छात्रों ने गेट के सामने विरोध किया और गार्ड से लाइब्रेरी के गेट खोलने के लिए कहा, किन्तु गार्ड ने ऐसा करने से इनकार कर दिया. घटना मंगलवार सुबह लगभग 10.40 बजे की है.

प्राथमिकी के मुताबिक, विरोध कर रहे और पुस्तकालय में सेंध लगाने का प्रयास कर रहे छात्रों को तितर-बितर करने के लिए गार्ड ने क्विक रिस्पांस टीम को बुलाया. आरोप है कि स्टूडेंट्स ने सुरक्षा कर्मियों के साथ मारपीट की और पुस्तकालय के गेट को लाठियों से पीटना शुरू कर दिया. गेट का शीशा टूट गया, गार्ड ने हमले का विरोध किया.

'ग्लोबल वेल्थ रैंकिंग' में अडानी-अंबानी का जलवा, जैक मा जैसे चीनी अरबपति को छोड़ा पीछे

शंघाई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह में दिखाई जाएगी कूझंगल

शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 3 पैसे की तेजी के साथ खुला रुपया