जेएनयू विद्यार्थियों ने खत्म की भूख हड़ताल

May 14 2016 10:10 AM
जेएनयू विद्यार्थियों ने खत्म की भूख हड़ताल

नई दिल्ली : जवाहरलाल नेहरू छात्र संघ के सदस्य छात्रों द्वारा 16 दिनों से जारी अपनी भूख हड़ताल और अनशन को समाप्त कर दिया है। विद्यार्थियों द्वारा यह निर्णय उच्च न्यायालय के आदेश के बाद लिया गया है। उच्च न्यायालय ने 9 फरवरी के विवादित कार्यक्रम के तहत विश्वविद्यालय द्वारा सुनाए गए निर्णय पर सशर्त रोक लगा दी। मिली जानकारी के अनुसार विद्यार्थियों का अनशन समाप्त तो हो गया है लेकिन कुलपति द्वारा जब तक सजा को समाप्त नहीं किया जाएगा विद्यार्थी अपना संघर्ष जारी रखेंगे। प्रशासन के सामने सभी ने अपनी - अपनी मांगों को सामने रखा है।

विद्यार्थियों ने कहा है कि प्रशासन उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दे रहा है जिसके कारण उन्हें न्यायालय जाने के लिए मजबूर होना पड़ा है। जेएनयू छात्र संघ उपाध्यक्ष शहला रशीद शोरा ने कहा कि न्यायालय के आदेश के बाद हड़ताल को समापत करने का निर्णय लिया जा चुका है। उन्होंने कहा कि कुलपति जब तक सजा को रद्द नहीं कर देते हैं संघर्ष जारी रहेगा। उल्लेखनीय है कि 9 फरवरी को आतंकी मसूद अजहर की बरसी पर  जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में कार्यक्रम किया गया और देशविरोधी नारेबाजी की गई।

इस मामले में छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार, उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य को पकड़ लिया गया। पांच सदस्यीय कमिटी द्वारा जांच के आधार पर विश्वविद्यालय से निकालने और जुर्माने की घोषणा की गई। विद्यार्थियों दंडात्मक कार्रवाई के विरूद्ध भूख हड़ताल पर चले गए थे।