जेएनयू देशद्रोह मामला: पुलिस ने दाखिल की 1200 पन्नों की चार्जशीट, कल हो सकती है सुनवाई

Jan 14 2019 03:44 PM
जेएनयू देशद्रोह मामला: पुलिस ने दाखिल की 1200 पन्नों की चार्जशीट, कल हो सकती है सुनवाई

नई दिल्‍ली : 2016 में जवाहरलाल नेहरू विश्‍वविद्यालय (जेएनयू) में हुई राष्ट्रविरोधी नारेबाजी के मामले में दिल्‍ली पुलिस ने सोमवार को पटियाला हाउस कोर्ट में आरोप-पत्र दायर कर दिया है. दिल्‍ली पुलिस की तरफ से 1200 पन्नों की चार्जशीट दाखिल कर दी गई है. दिल्ली पुलिस की तरफ से दायर की गई आरोप-पत्र पर मंगलवार (15 जनवरी) को सुनवाई हो सकती है.

सप्ताह के पहले दिन शेयर बाजार की सुस्त शुरुआत, सेंसेक्स के साथ निफ़्टी भी लुढ़का

पुलिस ने आईपीसी की धारा 124ए, 323, 465, 471, 143, 149, 147, 120बी के अंतर्गत आरोप-पत्र दाखिल किया है. इसमें कन्‍हैया कुमार, उमर खालिद, अनिर्बान भट्टाचार्य, आकिब हुसैन, मुजीब हुसैन, मुनीब हुसैन, उमर गुल, राया रसूल, बशीर भट्ट सहित अन्‍य लोगों को भी आरोपी बनाया गया है. वहीं आरोप-पत्र दाखिल होने से पहले कन्‍हैया कुमार ने मीडिया में क‍हा है कि 'अगर यह खबर सत्य है कि इस मामले में आरोप-पत्र दाखिल हो रही है, तो इसके लिए मैं पुलिस और मोदी जी को धन्‍यवाद देना चाहूंगा. इस मामले में 3 साल बाद और लोकसभा चुनावों से ठीक पूर्व आरोप-पत्र दाखिल होना दर्शाता है कि यह फैसला राजनीति से प्रेरित है, किन्तु मुझे देश की न्‍यायपालिका पर पूरा भरोसा है.'

पहली बार अंतरराष्ट्रीय सीमा पर जाने के लिए उत्सुक था यह टीवी एक्टर

बताया जा रहा है कि सेक्शन 11 में 10 लोग आरोपी हैं, जिनमें से 3 गिरफ्तार हो चुके हैं. आरोपी के तौर पर डी राजा की बेटी अपराजिता के नाम के साथ शेहला राशिद का भी नाम शामिल है. आपको बता दें कि 2016 में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में राष्ट्रविरोधी नारे लगाए गए थे, जिससे काफी बवाल हुआ था. आज पुलिस ने इसी मामले में चार्जशीट दाखिल कर दी है.

खबरें और भी:-

 

महाधिवेशन समाप्त होने के बाद एक्शन मोड में आई भाजपा, शुरू हुआ बैठकों का दौर

राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण में युवाओं के लिए वैकेंसी, जानिए क्या है आवेदन की प्रक्रिया ?

1 लाख रु वेतन, रिसर्च एसोसिएट्स करें अप्लाई