'माउंट एवरेस्ट' फतह करने वाले महफूज इलाही को जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने किया सम्मानित

श्रीनगर: केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिला प्रशासन द्वारा शुक्रवार को 26 वर्षीय महफूज इलाही हजाम को सम्मानित किया गया. हाल ही में वह माउंट एवरेस्ट फतह कर लौटे हैं. कुलगाम के डेप्यूटी कमिश्रर डॉ. बिलाल मोही-उद- जिन भट्ट ने महफूज को एवरेस्ट फतेह करने को लेकर बधाई दी. उनके सम्मान समारोह के दौरान डीसी ने उन्हें एक शॉल और मोमेंटो उपहार स्वरुप दिए.

इस दौरान डीसी ने कहा कि महफूज से युवा प्रभावित होंगे और पर्वतारोहण और अन्य खेलों में उनकी रुचि बढ़ेगी. महफूज कुलगाम जिले के कुजरू के निवासी हैं. वह जवाहर इंस्टीट्यूट ऑफ माउंटेनियरिंग एंड विंटर स्पोर्ट्स अरू (पहलगाम) में सिविलयन इंसट्रक्टर हैं. महफूज ने बताया कि वह एक मिडिल क्लास परिवार से संबंध रखते हैं. एक जून की सुबह 6:30 पर उन्होंने अपना मिशन पूरा किया और विश्व की सबसे ऊंची चोटी (8,849 मीटर) की चढ़ाई पूरी की. इस अभियान की अगुवाई कर्नल एलएस थापा कर रहे थे. उन्होंने दो बार एवरेस्ट की चढ़ाई पूरी की है. कर्नल थापा मौजूदा वक़्त में JIMWS के प्रिंसिपल हैं.

उन्होंने बताया कि यह अभियान बिल्कुल भी आसान नहीं था. तेज हवाओं के कारण उनकी टीम कैंप 2 में 10 दिन तक फंसी रही. महफूज ने कहा कि कश्मीर के युवाओं को साहसिक खेलों के लिए आगे आना चाहिए.यहां लोगों में इसके लिए बहुत क्षमता है. सम्मान समारोह के दौरान एडीसी, एसीडी और जिला प्रशासन के कई अन्य अधिकारी उपस्थित थे. 

विप्रो लिमिटेड ने जूनियर स्टाफ के वेतन में की वृद्धि

उतार-चढ़ाव के बीच बंद हुआ बाजार

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग करे बंगाल हिंसा और पलायन की जांच - कोलकाता हाई कोर्ट

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -