जीतन राम मांझी को सीटें नहीं खैरात मिली, देवेंद्र यादव

जीतन राम मांझी को सीटें नहीं खैरात मिली, देवेंद्र यादव

पटना : बिहार में विधानसभा चुनावों के लिए भारतीय जनता पार्टी में सिंटो के बटवारे पर भले ही हिंदुस्तान अवाम मोरचा ''हम'' के अध्यक्ष व बीजेपी के बीच विवाद खत्म हो गया हो लेकिन एक ताजा घटनाक्रम के तहत ''हम'' में इसके लिए घमासान जारी है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक भारतीय जनता पार्टी के सीट बंटवारे से पूर्व केंद्रीय मंत्री देवेंद्र यादव ने हम का साथ छोड़ दिया है. तथा उन्होंने इसके तहत मंगलवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. देवेंद्र यादव ने जीतन राम मांझी के फैसले पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा की जीतन राम मांझी को सीटें नहीं खैरात मिली है. व मांझी ने भारतीय जनता पार्टी के साथ जो समझौता किया है वह समझौता नही बल्कि समर्पण है. इससे पहले देवेंद्र यादव बिहार के झंझारपुर से सांसद रह चुके है. 

यादव ने धमकी भरे लहजे में कहा है की लोजपा से कम सीट मिलना हम के लाखों कार्यकर्ताओं का अपमान है, व आगे कहा की यदि हम हिले तो एनडीए की हवेली हिल जाएगी. यादव ने कहा की एनडीए को इसका खामियाजा चुनाव में भुगतना पड़ेगा. भारतीय जनता पार्टी को अपने इस फैसले पर पुनः गंभीर होकर विचार विमर्श करना चाहिए. उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा की बीजेपी जीतनराम मांझी को ब्लैकमेल करना चाहती है. हमारे पास 20 फीसद महादलित का वोट है. व हमने भारतीय जनता पार्टी से पचास सीटों की मांग की थी.