डायन के कारण कर डाली परिवार के 3 सदस्यों की हत्या

रांची: झारखंड के गुमला में एक ही परिवार के 3 लोगों का जीवन अंधविश्वास के भेंट चढ़ गया। यहां के लूटो गांव में डायन होने कि शंका में एक ही परिवार के तीन लोगों का टांगी से काटकर क़त्ल कर दिया गया। क़त्ल के पश्चात् दोनों अपराधियों ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया। झारखंड में अंधविश्वास के नाम पर क़त्ल किसी से छिपी नहीं हैं। यहां आए दिन ऐसे मामले सामने आती रहते हैं। हालांकि, इसके लिए प्रदेश सरकार ने अंधविश्वास के विरुद्ध प्रचार प्रसार सहित कई कदम उठाए हैं, इसके बाद भी ये वारदाते रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। 

वही ये वारदात 25 सितंबर की बताई जा रही है। यहां के लूटो गांव में 55 वर्ष के बंधन उरांव तथा उसकी बीवी सोमारी देवी तथा 40 वर्षीय बहू के क़त्ल का मामला सामने आया है। क़त्ल मतकों के रिश्तेदार द्वारा किया गया। कहा जा रहा है कि बंधन उरांव की बीवी सोमारी देवी झाड़-फूंक का काम करती थीं। इसी के चलते उनका विवाद उनके भतीजे बिपता उरांव तथा जुलू उरांव से हो गया। तत्पश्चात, दोनों ने मिलकर तीनों का क़त्ल कर दिया।

वही क़त्ल के पश्चात् दोनों अपराधियों ने सरेंडर कर दिया। पुलिस ने क़त्ल में उपयोग किए जाने वाला हथियार भी जब्त कर लिया है। पुलिस अपराधियों से पूछताछ कर घटना की पूरी सच्चाई जानने का प्रयास कर रही है। गुमला में पहले भी डायन बिसाही के नाम पर क़त्ल के मामले सामने आए हैं। यहां 22 फरवरी को कामडारा थाना के बुरुहातु गांव में निकोदिन टोपनो के पूरे परिवार का क़त्ल डायन-बिसाही की शंका के आधार पर कर दिया गया था।

इंस्टाग्राम पर मिले लड़के ने लड़की को बुलाया लखनऊ और कर डाला ये गंदा काम

अब पुलिस भी सुरक्षित नहीं..., मध्य प्रदेश में महिला आरक्षक के साथ 3 दरिंदों ने किया सामूहिक बलात्कार

प्राइवेट स्कूल में 'नैतिक शिक्षा' पढ़ाता था अब्दुल रफ़ीक़, कर डाला पहली कक्षा की बच्ची का बलात्कार

Most Popular

- Sponsored Advert -