+

झारखण्ड पीएससी परीक्षा परिणाम संदेह के घेरे में, विपक्ष ने किया विरोध

Feb 27 2016 08:14 AM
झारखण्ड पीएससी परीक्षा परिणाम संदेह के घेरे में, विपक्ष ने किया विरोध

रांची: झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) द्वारा 5वीं सिविल सेवा परीक्षा के नतीजे रविवार को घोषित कर दिए गए है। लेकिन इन परिणामो के खिलाफ विपक्ष ने अनियमितता व भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए सीबीआई से जांच कराने की मांग की है। आज सुबह जैसे ही प्रश्न काल प्रारंभ हुआ वैसे ही विपक्षी झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस और झारखंड विकास मोर्चा के लगभग सभी विधायको ने अपनी-अपनी तख्तियां लेकर विधानसभा अध्यक्ष की कुर्सी के सामने खड़े होकर जोरदार विरोध प्रदर्शन किया। 

झामुमो नेता स्टीफन मरांडी ने जेपीएससी के परिणामो को गलत बताते हुए इनकी जाँच सीबीआई या किसी अन्य निष्पक्ष संस्था से कराने कि मांग की है। इनके अलावा विपक्षी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और विधायक सुखदेव भगत का कहना था कि इस परीक्षा के प्रश्न पत्र एक वर्ष पहले ही तैयार कर लिए गए थे। और अब उनका उपयोग हुआ है एक कोचिंग संस्थान पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि वहां के छात्र क्रमवार परीक्षा में पास हुए हैं। जिससे परीक्षा के परिणाम पूरी तरह से संदेह के घेरे में है। अतः उन पर तत्काल रोक लगायी जाये।

इस प्रदर्शन से परेशान होकर विधानसभा अध्यक्ष ने सभी से विनती की कि वे सभी अपनी जगह पर शांति से बैठे हम सब इसका हल निकालेंगे। लेकिन विरोध जारी रहा इसलिए इस बैठक को 30 मिनिट के लिए स्थगित कर दिया गया तथा जब आधे घंटे बाद जब मीटिंग प्रारंभ हुई तो सभी ने पुनः उसी तरीके से विरोध प्रदर्शन किया गया इसलिए बैठक को एक बार फिर लंच टाइम तक स्थगित कर दिया गया।