ब्रेन मलेरिया से गई जवान की जान

रांची: देश से आए दिन कई तरह के मामले सामने आते रहते है इस बीच झारखंड जगुआर (जेजे अथवा एसटीएफ) के सैनिकों पर ब्रेन मलेरिया कहर बनकर टूट रहा है। ब्रेन मलेरिया ने एक और सैनिक की जान ले ली। हॉस्पिटल में उपचार के चलते सैनिक उपेंद्र कुमार मौत हो गई। सैनिक को पहले नर्सिंग होम में एडमिट कराया गया था। सेहत में सुधार नहीं होने पर उसे मेडिका हॉस्पिटल रेफर किया गया, जहां कई दिनों से उसका उपचार चल रहा था, मगर बृहस्पतिवार को उपचार के चलते उपेंद्र ने दम तोड़ दिया। 

वही प्राप्त हुई खबर के अनुसार, ब्रेन मलेरिया से अबतक झारखंड जगुआर के 83 सैनिक शहीद हो चुके हैं। जवान उपेंद्र कुमार मूलत पलामू के लेस्लीगंज थाना इलाके में स्थित ओरिया के रहने वाले थे। उपेंद्र ने छह जून 2017 को झारखंड जगुआर में सैनिक के पद पर नौकरी आरम्भ की थी। 

बीते 13 वर्षों में जंगलो में उग्रवादियों के विरुद्ध अभियान में झारखंड जगुआर के 83 सैनिक अभी तक शहीद हो चुके हैं। जगुआर सैनिक काफी सारी दिक्कतों से जुझ रहे हैं। 2008 में सरकार द्वारा दी गई टूटी-फूटी गाड़ियों से इन सैनिकों को गश्त करनी पड़ती है। अभियान से लौटने के पश्चात् पक्के मकान नहीं बल्कि टेंट में रहना पड़ता है। जगुआर परिसर में आज भी सैनिकों को साफ पानी पीने को नसीब नहीं हो रहा। कई क्षेत्रों में तो सैनिक पानी के बीच ही रहते हैं तथा मच्छरों के शिकार होते हैं। 

उत्तराखंड के इन इलाकों में जमकर बरसेंगे बदरा

कांग्रेस विधायक दल की बैठक से पहले इस्तीफा देंगे CM अमरिंदर ! सुनील जाखड़ हो सकते हैं पंजाब के नए 'कैप्टन'

सामने आया 'रसोड़े में कौन था' का सेकंड वर्जन, वीडियो देख यूजर्स हुए लोटपोट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -