मुनिलाल की भुखमरी पर हाई कोर्ट सख्त, धनबाद उपायुक्त से माँगा जवाब

Jun 13 2019 06:01 PM
मुनिलाल की भुखमरी पर हाई कोर्ट सख्त, धनबाद उपायुक्त से माँगा जवाब

धनबाद: झारखंड उच्च न्यायालय ने धनबाद जिला के कतरास अंगार पथरा के निवासी मुनीलाल यादव की भुखमरी की स्थिति पर संज्ञान लिया है, साथ ही धनबाद उपायुक्त को 24 घंटे के अंदर रिपोर्ट अदालत के सामने पेश करने के निर्देश दिए है. जिसके बाद उपायुक्त एक्शन में नज़र आ रहे हैं. हालांकि, अब तक उनकी सुध लेने वाला कोई नहीं था.

कतरास अंतर्गत धनबाद नगर निगम वार्ड क्रमांक 4 अंगारपथरा के रहने वाले बुजुर्ग मुनिलाल यादव को लगभग दो सालों से पीडीएस का अनाज नहीं मिल पा रहा है. कारण बताया जा रहा है कि पीडीएस में राशन लेने के लिए मुनीलाल यादव के अंगूठे का निशान नहीं मिल पा रहा था. मुनीलाल को करीब 2 वर्ष से राशन नहीं मिलने की वजह से भुखमरी के कगार पर आ गया था. इस खबर को सभी अखबारों ने प्रमुखता से प्रकाशित किया था. जिसके बाद झारखंड उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति एक्सी मिश्रा और दीपक रोशन की अदालत ने स्वतः संज्ञान लेते हुए धनबाद उपायुक्त को 24 घंटे के अंदर जवाब माँगा है.

वहीं, झारखंड उच्च न्यायालय के संज्ञान लेने के बाद धनबाद उपायुक्त एक्शन में दिखी और जिले के एमओ अरुण कुमार उसके आवास पहुंचकर उसका हाल चाल जाना. साथ ही मुनिलाल को अभी के लिए 20 किलो चावल दिया है. वहीं भविष्य में उसका राशन लाल कार्ड द्वारा वितरित हो इसके लिए पर्याप्त उपाय किये जाने हैं. एमओ महोदय ने कहा है कि जिस भी किस्म की तकनीकी कमी हो, उसके बाद भी मुनिलाल को राशन मिले इसका समुचित इंतज़ाम किया जाएगा.

13 जून को वित्तीय संस्थानों के अधिकारियों समेत बैंकरों के साथ बैठक करेंगी वित्तमंत्री

भारत के पूर्वोत्‍तर क्षेत्र में जारी नई परियोजनाओं पर 13,000 करोड़ का निवेश करेगा जापान

चौथे दिन बाजार खुलते ही रुपये में नजर आई मजबूती