जेठमलानी को राज्यसभा प्रत्याक्षी बनाए जाने पर पार्टी में अंदरूनी विरोध

बिहार: बिहार गठबंधित सरकार की सत्ताधारी पार्टी  राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) द्वारा वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी को पार्टी की तरफ से राज्यसभा प्रत्याक्षी बनाया गया है. जिसे लेकर पार्टी में अंदरूनी विरोध देखने को मिल रहा है. आरजेडी नेता और पूर्व सांसद  डॉ. एजाज अली पार्टी के इस फैसले का विरोध किया है. 

एज़ाज़ अली के नौसर, पार्टी मुसलमानो और यादव उम्मीदवारों का हक़ छीन रही है. पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव को जेठमलानी से उम्मीद है की वह अमित शाह की तरह उन्हें भी चारा घोटाले में  'क्लिन चीट' दिलवा देंगे. इसलिए लालू मुसलमानों की कुर्बानी दे रहे हैं.

लेकिन अगर जेठमलानी राजद अध्यक्ष को क्लीन चिट नहीं दिलवा सके तो मुस्लिम और दलितों की कुर्बानी व्यर्थ जाएगी. इस समय आरजेडी के विधानसभा में 80 विधायक हैं. वही महागठबंधन में शामिल जनता दल (युनाइटेड) के 71 व कांग्रेस के 27 विधायक मौजूद  है.  

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -