भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग के विरुद्ध कार्यवाही करेंगी विमानन कंपनियां

नई दिल्‍ली: खबर है की हवाई माल ढुलाई से जुड़ी प्रतिस्पर्धा रोधी गतिविधियों के मद्देनजर 258 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाए जाने के मसले पर जेट एयरवेज, इंडिगो एवं स्पाइसजेट ने अपने एक बयान में कहा है की हम इस जुर्माने के लिए भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई करेंगे. आपको बता दे की भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग ने हवाई माल ढुलाई पर ईंधन अधिभार तय करने के संबंध में गुट बनाने के लिए जेट एयरवेज, इंडिगो एवं स्पाइसजेट इन तीनो ही विमानन कंपनियों पर अपनी और से जुर्माना लगाया है.

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग ने भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग ने जेट एयरवेज पर 151.69 करोड़ रुपये, इंटरग्लोब एवियेशन पर 63.74 करोड़ व स्पाइजेट पर 42.48 करोड़ रुपये का भारी भरकम जुर्माना ठोंका है. अपनी एक नियामकीय जानकारी के तहत जेट एयरवेज ने कहा है की यह प्रतिस्पर्धा कानून के प्रावधानों का उल्लंघन नहीं है तथा हम अपनी और से इस फैसले के बचाव में कानूनी पहलों का अनुपालन करेंगे.

उन्होंने कहा है की कंपनी भारतीय प्रस्पिर्धा आयोग के आर्डर का सुष्मता से अध्ययन कर रही है तथा इसको चुनौती देने के लिए क़ानूनी पहल करने पर गंभीरता से विचार विमर्श कर रही है. 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -