'क्षेत्रीय पार्टियां कांग्रेस को नहीं हरा सकती' बोल घिरे राहुल गाँधी

उदयपुर: राजस्थान के उदयपुर में कांग्रेस के तीन दिवसीय चिंतन शिविर का समापन हो गया है। जी हाँ और तीन दिनों के मंथन के बाद कांग्रेन ने 2024 की अपनी राजनीतिक वापसी की लड़ाई का रोडमैप तय कर लिया है। इसी के साथ चिंतन शिविर में बीते दिन कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि, 'अगर कोई दल बीजेपी को हरा सकता है तो वो केवल कांग्रेस पार्टी है। क्षेत्रीय पार्टियां नहीं हरा पाएंगी।'

वहीं दूसरी तरफ राहुल गांधी के दिए इस बयान पर क्षेत्रीय पार्टियां भड़क उठी हैं। जी दरअसल, राहुल गांधी ने बीते रविवार को बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि, 'आरएसएस-बीजेपी की विचारधारा देश के लिए खतरा है। मोदी सरकार ने नोटबंदी और GST से देश की रीढ़ तोड़ दी है तो अब लोग लगातार बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी जैसे मामलों से जूझ रहे हैं।' इसी के साथ उन्होंने क्षेत्रीय पार्टियों पर भी जमकर निशाना साधा। जी दरअसल उन्होंने कहा बीजेपी को अगर कोई हरा सकता है तो वो केवल कांग्रेस है। क्षेत्रीय पार्टियों के पास ऐसी विचारधारा नहीं कि वो बीजेपी को हरा सकें। वहीं राहुल गांधी के बयान पर क्षेत्रीय दलों ने पलटवार करते हुए इसे बचकाना बताया है।

इस पर समाजवादी पार्टी ने कहा, 'चिंतन शिविर का निष्कर्ष अपने आप में दिखाता है कि कांग्रेस देश की राजनीति के लिए कितनी खतरनाक है।' वहीं आरजेडी के पार्षण रामबली सिंह ने कहा, 'अभी के समय में बीजेपी काफी मजबूत है उसे परास्त करने के लिए क्षेत्रीय पार्टी का सहयोग के बिना कांग्रेस पार्टी कुछ भी नहीं कर सकती है।' वहीं इन सभी के अलावा, जेडीयू प्रवक्ता अभिषेक झा ने कहा, एक तरफ राहुल गांधी क्षेत्रीय पार्टी पर कटाक्ष करते हैं और दूसरी ओर बिहार में क्षेत्रीय पार्टी के पिछलग्गु बने हुए हैं। परिवारवाद पार्टी का यहीं हश्र होता है।'

'कांग्रेस पार्टी के DNA में सबको बोलने का अधिकार': राहुल गांधी

कांग्रेस नेताओं ने भाजपा से मुकाबला करने के लिए चिंतन शिविर में बातचीत की

सुनील जाखड़ ने कांग्रेस को कहा अलविदा, सिद्धू बोले- 'उन्हें पार्टी को नहीं छोड़ना चाहिए।।।'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -