लोकसभा चुनाव: जेडीएस के महासचिव दानिश अली ने थामा बसपा का हाथ

लोकसभा चुनाव: जेडीएस के महासचिव दानिश अली ने थामा बसपा का हाथ

लखनऊ: जनता दल (सेक्‍युलर) यानी जेडीएस के महासचिव दानिश अली ने पार्टी से इस्तीफा देकर बहुजन समाज पार्टी (बसपा) का हाथ थाम लिया है. दानिश अली लखनऊ में शनिवार को आयोजित किए गए एक कार्यक्रम में बसपा का दामन थामा. उन्‍हें सतीश चंद्र मिश्रा ने पार्टी में शामिल करवाया है. सूत्रों के हवाले से यह भी कहा जा रहा है कि बसपा सुप्रीमो मायावती दानिश अली को उत्तर प्रदेश के अमरोहा से बतौर उम्मीदवार चुनावी मैदान में उतार सकती हैं.

रमजान के बाद जम्मू कश्मीर में हो सकते हैं विधानसभा चुनाव !

उल्लेखनीय है कि दानिश अली ने हाल ही में कांग्रेस और जेडीएस के मध्य हुए गठबंधन कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. बसपा का हाथ थामने के बाद दानिश अली ने कहा है कि जब मैं जेडीएस में भी था तो मैंने कभी किसी चीज के लिए नहीं कहा था. जेडीएस अध्यक्ष एचडी देवेगौड़ा जी ही यह फैसला लेते थे कि मुझे क्‍या कार्य करना है. मैं एचडी देवेगौड़ा जी की शुभकामनाएं और इजाजत लेकर ही यहां आया हूं. मायावती जी मुझे जो भी जिम्‍मेदारी देंगी, उसे मैं निभाऊंगा.

झारखण्ड: महागठबंधन में शामिल होना चाहती है CPI, मांगी हज़ारीबाग की सीट

13 मार्च को दानिश अली और कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी के मध्य कोच्चि में महत्वपूर्ण बैठक हुई थी. इसमें लोकसभा चुनाव में जेडीएस और कांग्रेस के गठबंधन पर अंतिम मुहर लगी थी. इसके तहत कर्नाटक में कांग्रेस 20 और जेडीएस आठ लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी. इस गठबंधन पर पिछले काफी दिनों से रस्साकशी चल रही थी. दोनों पार्टियों के बीच वार्तालाप सफल नहीं हो पा र‍ही थी. 2018 का विधानसभा चुनाव कांग्रेस और जेडीएस ने एक-दूसरे के विरुद्ध लड़ा था. किन्तु चुनाव परिणाम में त्रिशंकु रहने पर दोनों दलों ने सरकार बनाने के लिए गठजोड़ कर लिया था.

खबरें और भी:- 

सपा छोड़ शिवपाल यादव की पार्टी में शामिल हुई, यूपी की पूर्व मंत्री अरुणा कोरी

सपा-बसपा गठबंधन के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे संजय दत्त!

रमन सिंह की मुश्किलें बढ़ीं, दामाद पर दर्ज हुआ 50 करोड़ के घोटाले का मामला