प्रधानमंत्री मोदी को मछुआरों मुद्दे पर जयललिता ने लिखा खत

चेन्नई: श्रीलंकाई नौसेना द्वारा भारतीय मुछआरों को लगातार गिरफ्तार किये जाने के मामले पर आपत्ति व्यक्त करते हुये तमिलनाडु सरकार ने केन्द्र सरकार से कहा है कि कोलंबो की संदिग्ध कार्रवाई के कारण समुद्र में स्थिति जोखिमपूर्ण बनी हुयी है। बीते 26 सितंबर को तूतीकोरिन जिले के मछुआरों को गिरफ्तार किये जाने की हालिया घटना का जिक्र करते हुये मुख्यमंत्री जे जयललिता ने पीएम मोदी से कहा है कि एक सप्ताह के भीतर यह ऐसी तीसरी घटना है।

उन्होंने मोदी को पत्र में आगे लिखा है, इस संवेदनशील आजीविका मुद्दे पर स्थायी समाधान के लिए उदार मन से चिंतन करते हुये मेरी सरकार द्वारा कई कदम उठाये जाने के बावजूद श्रीलंकाई सरकार की संदिग्ध कार्रवाई के कारण समुद्र में स्थिति अभी भी खतरनाक बनी हुयी है। बता दे की यह पत्र 30 सितंबर को लिखा गया था जिसे राज्य सरकार ने आज जारी किया। उन्होंने बताया कि यह एक और ऐसी घटना है जिसमें तमिलनाडु के मछुआरों को गिरफ्तार किया गया है और पारंपरिक जल क्षेत्रों में मछली पकड़ने के उनके अधिकार का श्रीलंकाई नौसेना ने फिर से उल्लंघन किया है।

जयललिता ने लिखा है, मैं भारत सरकार से निवेदन करती हूं कि वह तमिलनाडु के हमारे भारतीय मछुआरों के अधिकार और हितों को बनाए रखने के लिए एक मजबूत कूटनीतिक पहल करे। श्रीलंकाई सरकार लगातार हमारे मछुआरों को उस समय गिरफ्तार कर रही हैं जब वे अपने पारंपरिक जल क्षेत्र में मछली पकड़ने जाते हैं।’

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -