जापान में बर्बादी की शाम ढली ही थी, कि 'ट्रामी' फिर आ धमका

<

strong>टोक्यो: जापान को तबाही से उबरने में चंद दिनों का समय लगता है, लेकिन तबाही बार-बार दस्तक दे तो डर लगना लाज़मी हो जाता है. जापान मौसम विभाग के अनुसार दक्षिणी जापान में आज खतरनाक तूफ़ान 'ट्रामी' के आ जाने के बाद जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है.

इंडोनेशिया में भूकंप के बाद सुनामी का कहर, 400 लोगों की मौत



ट्रामी एक शक्तिशाली टायफून तूफ़ान है जो जापान के दक्षिणी द्वीप ओकिनावा पहुँच चुका है. इस प्रचंड तूफ़ान में फसने की वजह से अब तक पांच लोगों के घायल होने की आशंका है. रविवार तक इस शक्तिशाली तूफ़ान के और ज्यादा विनाशकारी होने की चेतावनी जारी की गई है. रविवार को सम्पूर्ण जापान में इसका असर हो सकता है. जापानी टेलीविज़न पर उखड़े पेड़ों और हुए नुकसान दिखाए जा रहे हैं. जानकारी के मुताबिक़ पूरे इलाके की बिजली काट दी गई है और 600 से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थान पर पंहुचा दिया गया है. जापान में आये इस तेज तूफ़ान की वजह से 380 से अधिक उड़ाने रद्द कर दी गई हैं, अभी हाल के ही दिनों में जापान भीषण तूफ़ान , बारिश और बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित हुआ था.लाखों डॉलर के नुकसान को झेलने के कुछ ही दिनों बाद एक बार फिर शक्तिशाली तूफ़ान की चेतावनी जारी होने पर चिंता बढ़ गई है.

UN में बदले पाकिस्तान के सुर, बोला भारत से युद्ध कोई विकल्प नहीं है



बीते दिनों टायफून ने पूरे जापान में भीषण तबाही मचाई थी. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि रविवार तक पूरे जापान पर इस 24 वे टाइफून का असर होगा जिनमे तूफ़ान की तीव्रता, ऊँची समुद्री लहरें और जबरदस्त बारिश होने की आशंका है. अनुमान लगया गया है कि 250 - 400 एमएम तक की बारिश के साथ 10 मीटर से ज्यादा ऊंची लहरें उठने की संभावना है.

 ख़बरें और भी 

इस देश में 69 हजार लोगों की उम्र हैं 100 के पार, वजह जानकर हो जायेंगे निराश

चीन ने खोज निकाला 1894 के चीन-जापान युद्ध में इस्तेमाल हुआ लड़ाकू जहाज़

बर्लिन में हुआ सेल्फ ड्राइविंग ट्राम ट्रेन का सफल परीक्षण
 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -