Janmashtami 2018 : 'दही हांडी' तोड़ने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

Sep 03 2018 02:00 PM
Janmashtami 2018 : 'दही हांडी' तोड़ने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

'हाथी घोड़ा पालकी, जय कन्हैया लाल की' आज आपको मोहल्ले की हर गली में यही गूंज सुनाई देंगी. आज जन्माष्टमी का त्यौहार है और इस दिन को पूरे देशभर में ख़ास तरीके से मनाया जाता है. आज के ही दिन भगवान विष्णु ने भगवान श्री कृष्ण के रूप में अवतार में लिया था. इस दिन अलग-अलग जगह मटकी फोड़ कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं और इस त्यौहार को बड़े ही हर्षो उल्लास के साथ मनाया जाता है.

महाराष्ट्र में शुरू हो गई दही हांडी की तैयारियां

ख़ास बात यह है कि मटकी फोड़ कार्यक्रम के लिए बहुत ही उत्साहित रहते हैं लेकिन आपको इस दौरान कई सारी बातों का ख्याल रखना पड़ता है नहीं तो आपको भारी नुकसान हो सकते है. तो चलिए जानते हैं कि इस कार्यक्रम के दौरान आप कौन-सी ख़ास बातों का ध्यान रखें.

Janmashtami 2018 : कान्हा को पालने में झुलाने से खुशहाल रहता है परिवार

1. अगर आप इस त्यौहार में भाग ले रहे हैं तो पहले खुद को परख ले कि आप छलांग लगाने या उचाईं पर चढ़ने से डरते तो नहीं. अगर आप बिना सोचे समझे इसका हिस्सा बन जायेंगे तो आप गिर भी सकते हैं या फिर आप बैलेंस कंट्रोल न कर पाए.

2. मटकी फोड़ कार्यक्रम के दौरान पिरामिड केवल 7-8 लेयर के बीच ही होना चाहिए इससे ज्यादा लेयर का पिरामिड आपके लिए मुसीबत खड़ी कर सकता है.

3. दही हांडी की ऊंचाई भी ज्यादा अधिक नहीं होनी चाहिए, कभी-कभी मटकी को तोड़ना बहुत मुश्किल हो जाता है.

नेपाल में भूकंप के 3 साल बाद कृष्णा मंदिर फिर से खुला

4. ध्यान रखें कि इस आयोजन में 18 साल से कम उम्र के बच्चे हिस्सा न लें और अगर इस आयोजन का हिस्सा बन रहे तो पहले प्रेक्टिस कर ले इसके बाद कार्यक्रम का हिस्सा बने.

ये भी पढ़े

जानिए कितने बुलंद है आज आपकी किस्मत के सितारे

इस राशि के लोगों के साथ बन रहा है महायोग, हो सकता है लाभ

आज से शुक्र ग्रह का 'तुला राशि' में प्रवेश, इन राशियों की चमकेगी किस्मत