बकरीद मनाने में व्यस्त था पूरा गाँव, इधर खेत में अपनी बीवी का गला काट रहा था शब्बीर

श्रीनगर: जब पूरा गाँव कुर्बानी देकर बकरीद के जश्न में व्यस्त था, तब एक शौहर ने अपने बड़े भाई के साथ मिल अपनी बीवी की गला काटकर हत्या कर दी। यह मामला जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले के चसाना थाने से सामने आया है। इस मामले में पुलिस ने 20 घंटे के भीतर मोहम्मद शब्बीर और उसके बड़े भाई अब्दुल मजीद को अरेस्ट कर लिया है।

रियासी के SSP शैलेंद्र सिंह ने बताया कि खुंदरधन के रहने वाले मंजूर अहमद पुत्र मोहम्मद अब्दुल्ला ने पुलिस को बताया कि 22 वर्षीया उसकी बहन शमीम अख्तर की बेरहमी से उसके शौहर मोहम्मद शब्बीर ने क़त्ल कर दिया है। इसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी। दरअसल, शमीम अख्तर की शादी लगभग तीन वर्ष पूर्व मोहम्मद शब्बीर से हुई थी। शादी के कुछ दिन तक सब कुछ सही रहा, किन्तु कुछ समय बाद दोनों के बीच विवाद शुरू हो गया। ये अनबन रिश्तों में खटास की वजह बन गई। जिसके बाद शब्बीर ने बीवी शमीम को उसके माता-पिता के घर भेज दिया। मंजूर ने पुलिस को बताया कि बुधवार को जब शमीम खेत में मवेशी चरा रही थी, तभी उसका पति मोहम्मद शब्बीर अपने भाई अब्दुल मजीद के साथ वहां पहुंच गया। इसके बाद अब्दुल और शब्बीर ने शमीम पकड़ कर धारदार हथियार से उसकी गर्दन काट दी, जिससे शमीम की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

सूचना मिलने के बाद पुलिस ने आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए दबिश देना शुरू की। इस दौरान पुलिस ने पहाड़ी पर चार घंटे तक निगरानी करने के बाद एक आरोपी अब्दुल मजीद को अरेस्ट कर लिया। मजीद खुंदरधन के जंगलों में भागना चाहता था और वहाँ से वह कश्मीर घाटी में जाना चाहता था। भागने से पहले ही पुलिस ने उसे दबोच लिया। उससे पूछताछ के बाद पुलिस को मालूम चला कि दूसरा आरोपी राजौरी जिले में है। उसके बाद पुलिस ने एक टीम बनाई और उसकी गिरफ्तारी के लिए हरसंभव जगह पर दबिश दी। मुगल रोड के माध्यम से कश्मीर घाटी में भागने से पहले ही पुलिस ने मोहम्मद शब्बीर को भी अरेस्ट कर लिया।

बदमाशों ने केक में छुपा रखी थी कोकीन, इस तरह हुआ पर्दाफाश

नेल्लोर में खरपतवार परिवहन के आरोप में दो शख्स हुए गिरफ्तार, 8 किलो गांजा जब्त

पुल की रेलिंग से लटकी मिली लड़की की लाश, दादा और चाचा है वजह

 

Most Popular

- Sponsored Advert -