कठुआ: छात्रावास की आड़ में यौन उत्पीड़न करता था पादरी, पुलिस ने पादरी को गिरफ्तार कर छुड़ाए 19 बच्चे

Sep 08 2018 04:20 PM
कठुआ: छात्रावास की आड़ में यौन उत्पीड़न करता था पादरी, पुलिस ने पादरी को गिरफ्तार कर छुड़ाए 19 बच्चे

श्रीनगर: एक और आश्रय घर की डरावनी घटना जम्मू कश्मीर के जिले कठुआ से प्रकाश में आई है, जहां एक चर्च के साथ अवैध रूप से छात्रावास चलाकर एक पादरी द्वारा 19 बच्चों का आश्रय घर में यौन उत्पीड़न किया गया था. पादरी को अब हिरासत में ले लिया गया है और बच्चों को बचा लिया गया है. बचाए गए बच्चों ने आरोप लगाया है कि पादरी उन्हें छेड़छाड़ करता था.

बीजेपी की कार्यकारिणी बैठक में गरजे अमित शाह, कहा भाजपा को कोई पराजित नहीं कर सकता

शेल्टर होम से बचाए गए लड़कों को बाल आश्रम और लड़कियों को नारी निकेतन में स्थानांतरित कर दिया गया है. इन सभी को केरल के रहने वाले एक शख्स के घर से छुड़ाया गया है, इस अवैध छात्रावास के संचालक ने खुद को पठानकोट के एक चर्च से सम्बद्ध बताया है, हालांकि चर्च ने उसके इस दावे को खारिज करते हुए कोई संबंध न होने की बात कही है. जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार शाम करीब 5 बजे कठुआ पुलिस की एक विशेष टीम ने शहर के बस स्टैंड के पास एक अवैध छात्रावास पर छापा मारा, यहां करीब 2 घंटे तक सर्च ऑपरेशन चलाने के बाद 20 बच्चों को मुक्त कराया गया. 

बेघर दंपत्ति ने मूक-बधिर महिला को लिया गोद, मदद के लिए सरकार से लगाई गुहार

छापेमारी कर पुलिस ने मौके से अन्थोनी नामक एक शख्स को गिरफ्तार किया है, पूछताछ में पता चला है कि अन्थोनी केरल का रहने वाला है, जो जम्मू कश्मीर के कठुआ में एक चर्च के साथ छात्रावास चलता था, जिसमे अलग-अलग राज्यों से लाए गए बच्चों को रखा गया था. पिछले 4 सालों से बच्चे इस छात्रावास में रह रहे थे, उन्हें छात्रावास में मुफ्त में सारी सुविधा दी जाती थी. वहीं बच्चों का आरोप है कि छात्रावास में उनका यौन शोषण किया जाता था. 

खबरें और भी:-​

कश्मीर की समस्याओं के पीछे है इस नेता का हाथ?

अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस : जानिये कबसे और किसलिए मनाया जाता है यह ख़ास दिन

Video : राष्ट्रगान सुनकर जब ऐश्वर्या की आँखें हुई नम

?