सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में एक जवान शहीद

Sep 02 2015 06:28 PM
सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में एक जवान शहीद

जम्मू - कश्मीर: उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई। आज दोपहर तक मुठभेड़ चलती रही और आतंकी भारतीय सीमा में दाखिल होने का पूरा प्रयास करते रहे। मगर सुरक्षाबलों ने मुस्तैदी से आतंकियों पर फायरिंग की। इस दौरान एक जवान शहीद हो गया। मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के एक आतंकवादी को मार गिराया गया। मामले में पुलिस ने जानकारी देते हुए कहा कि सेना और पुलिस को आतंकियों की उपस्थिति की सूचना मिली थी। सूचना मिलने पर सेना ने क्षेत्र की घेराबंदी की और राफियाबाद क्षेत्र में मुठभेड़ की। इस दौरान आतंकियों ने सेना के जवानों पर फायरिंग की। सर्चिंग के दौरान आतंकियों ने हैवी फायर कर दिया।

मगर सेना ने संभलते हुए जवाबी कार्रवाई की। मामले में कहा गया कि क्षेत्र में लश्कर ए इस्लाम के दो आतंकियों के छिपे होने की बात कही गई। इन आतंकियों में एक आतंकी की इम्तियाज अहमद कांडू के तौर पर पहचान की गई। यही नहीं लश्कर ए इस्लाम के आतंकियों के क्षेत्र में मुठभेड़ में शामिल होकर गोलीबारी करने की बात भी सामने आई। यह भी कहा गया है कि जिन आतंकियों को पहचाना गया है वे हिजबुल मुजाहिदीन के प्रमुख सैयद सलाहुद्दीन से अलग होकर लश्कर  ए इस्लाम के नाम से आतंक फैला रहे हैं। इन आतंकियों पर करीब 10 लाख रूपए का ईनाम घोषित किया गया है। इस मुठभेड़ में मारे गए एक आतंकवादी की पहचान रियाज अहमद के रूप में हुई है, जो सोपोर जिले का निवासी था, अधिकारियों ने कहा कि मारा गया आतंकवादी ही घर के अंदर छिपा हुआ था।