जज्बात ने रोने न दिया

श्क में गैरत ऐ जज्बात ने रोने न दिया
वरना क्या बात थी किस बात ने रोने न दिया
आप कहते थे कि रोने से बदलेंगे नसीब 
उम्र भर आपकी इस बात पर रोना आया
रोने वालों से कह दो उनका भी रोना रो ले
जिनको मजबूरी ऐ हालात ने रोने न दिया
तुमसे मिलकर हमें रोना था और बहुत रोना था
तंगी वक्त ऐ हालात मुलाकात ने कभी रोने ही न दिया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -