चाचा के हाथ पर लिखा था माँ का नाम, देखते ही भतीजे ने कर दिया ये काम

जयपुर: आखिरकार राजस्थान की राजधानी जयपुर के हाई प्रोफाइल मर्डर केस का सच सामने आ ही गया. पोर्ट ब्लेयर के व्यापारी के जयपुर में कत्ल के केस को पुलिस ने सुलझा दिया है. जयपुर के भांकरोटा में 44 वर्ष के व्यापारी को उसके ही 18 वर्ष के भतीजे ने क़त्ल कर मौत के घाट उतार दिया. जहां इस बारें में पुलिस का कहना है कि चाचा के हाथ पर अपनी मां का नाम गुदा देखकर अपराधी ने उसके सिर पर रॉड से प्रहार कर कत्ल कर दिया.

मिली जानकारी के अनुसार  44 वर्ष के बिजनेसमैन शशि अग्रवाल का कत्ल उसके 18 वर्ष  के भतीजे राज अग्रवाल ने ही कर दिया था. जंहा इस बात का पता चला है कि मृतक शशि और मुंडेर करने वाले राज का परिवार पोर्टब्लेयर में रहता है और वहीं पर लोहे की अलमारी का व्यापार करता है. राज यहां जयपुर में रहकर पढ़ाई कर रहा था, और सिरसी रोड पर रहता था. शशि किसी कार्य से जयपुर आया था तो वह अपने भतीजे और भतीजे के दोस्त बंटी के साथ मिलकर शराब पार्टी कर रहा था.

जंहा इस बारें में पुलिस ने आगे कहा कि उसने चाचा के हाथ पर अपनी मां का नाम लिखा हुआ देखा. जिसके उपरांत उसे गुस्सा आ गया और अंदर जाकर रॉड निकालकर लाया और पीछे से सिर पर वार कर दिया. रॉड के प्रहार से शशि की घटनास्थल पर ही जान चली गई. हत्यारोपी भतीजे के अनुसार शशि की मृत्यु के उपरांत उसने एक और मित्र को बुलाया और फिर यू ट्यूब से शवों को ठिकाने लगाने के उपाय देखे.

आरोपी के हवाले से पुलिस ने कहा कि जिसके उपरांत वैशाली नगर जाकर आरोपी ने नमक खरीद कर लाया और नमक डालकर पॉलिथीन में पैक कर लिया. एक टैक्सी किराए पर ली और सुनसान स्थान पर ले जाकर शव को दफ़न कर दिया. इतना ही नहीं इस बारें में  राज ने कहा कि उसके मां और उसके पिता के मध्य तलाक हो गया था और ये सभी लोग पोर्टब्लेयर रहते हैं वह चाचा शशि के साथ अगले दिन पोर्टब्लेयर जाने वाला था. उसे पता था कि घर में चाचा की वजह से ही उसके माता-पिता के मध्य कलह है.

अपराधियों के खिलाफ यूपी पुलिस का एक्शन जारी, 3 एनकाउंटर में 3 बदमाश गिरफ्तार

तडेपल्ली में एक ही घर से मिले दो शव, केस सुलझाने में उलझी पुलिस

इंस्टाग्राम प्रभावित करने वाला 'हशपुप्पी' अमेरिका में कर रहा था ये काम

Most Popular

- Sponsored Advert -