उज्जैन में जगन्नाथ रथयात्रा तो रांची में जगन्नाथ को लगेगा गुड़िचा भोग

उज्जैन : इस्कॉन मंदिर भरतपुरी द्वारा दशहरा मैदान में आयोजित उत्सव के समापन पर शनिवार को शिवांग अकादमी की मयूरी सक्सेना एवं कलाकारों के कृष्ण भजनों पर आकर्षक नृत्य ने सभी दर्शकों का मन मोह लिया. कार्यक्रम की शुरूआत शाम 7.30 बजे नृत्य आराधना से हुई. रंगोली एवं चित्रकला स्पर्धा में विजेता 10 से अधिक बच्चों को पुरस्कृत किया। व्यायामशाला के बच्चों ने मलखंभ का प्रदर्शन किया. वहीँ अर्चना तिवारी ने भजन सुनाए व इस्कॉन यूथ फोरम की गर्ल्स ने डांस किया.

आज होगी जगन्नाथ की विदाई

आज भगवान जगन्नाथ की विदाई होगी और वापसी रथयात्रा निकलेगी जो दशहरा मैदान से दोपहर 1.30 बजे शुरू होगी व भरतपुरी इस्कॉन होकर ट्रेजर बाजार, काला पत्थर, सर्किट हाउस होते हुए नागझिरी मंदिर पर पहुचकर समाप्त होगी.

खीर-खिचड़ी और सब्जी का लगेगा भोग

रांची के मौसीबाड़ी में भी आज भगवान जगन्नाथ, बहन सुभद्रा और भाई बलराम को रात 8.00 बजे गुड़िचा भोग लगाया जायेगा. भगवान को खीर-खिचड़ी और सब्जी का भोग लगाया जाएगा. सोमवार हरिशयनी एकादशी को भगवान वापस मुख्य मंदिर लौटेंगे.सोमवार को दोपहर 2.30 बजे मौसीबाड़ी में दर्शन बंद हो जायेगा. शाम 4.16 बजे से मुख्य मंदिर के लिए भगवान रथ पर रवाना होंगे.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -