सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने जगन्‍ना विद्या दीवेना योजना के तहत छात्रों के लिए जारी की पहली किस्त

सोमवार को मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने 671.45 करोड़ रुपये की जगन्‍ना विद्या दीवेना योजना की पहली किस्त सीधे 10.88 लाख छात्रों की मां के खातों में जमा कर अपनी उच्च पढ़ाई की। बता दें कि इससे पहले सीएम जगन ने राज्य के छात्रों की शिक्षा को बढ़ावा देने का वादा किया था और इसी उद्देश्य से यह योजना शुरू की गई है।

यहां यह ध्यान देने वाली बात यह है कि मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में गरीबों और जरूरतमंदों के लिए शिक्षा को सुलभ बनाने के लिए इस योजना को तैयार किया गया है, जिसमें यह जोड़ा गया है कि वास्तविक धन, जो भावी पीढ़ी को दिया जा सकता है, वह शिक्षा है, जो केवल गरीबी को समाप्त कर उनके जीवन को बदल सकती है। बता दे कि 3648 किलोमीटर की पदयात्रा के दौरान वादे के अनुसार सरकार ने वर्ष 2019-20 के लिए शुल्क प्रतिपूर्ति के लिए 4207.85 करोड़ रुपये जारी किए थे, इसके अलावा 2018-19 के दौरान पिछली सरकार के लंबित बकाया राशि को मंजूरी दी थी। 

उन्होंने यह भी बताया कि पिछली किसी भी सरकार ने इतने बड़े पैमाने पर फीस बकाया की प्रतिपूर्ति नहीं की है। हालांकि, मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार शिक्षा के क्षेत्र के लिए बहुत प्रतिबद्ध है और इस प्रकार जगन्ना गोरू मुधा, अम्मा वोदी, वासती देवेना जैसी योजनाएं शुरू की ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कोई भी परिवार शिक्षित होने की खातिर कर्ज में न चले। अब तक जगन्ना विद्या देवेना के तहत कुल 4,879 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं, जिससे 10.88 लाख छात्र लाभान्वित हो रहे हैं।

यूपी के 100 से अधिक बिस्तर वाले सभी अस्पतालों में लगेगा ऑक्सीजन प्लांट, सीएम योगी का आदेश

परम पावन दलाई लामा ने की पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना

कोरोना पॉजिटिव पाए गए राहुल गांधी, ट्वीट कर लोगों से की यह अपील

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -