'बुद्धा इन ए ट्रैफिक जाम' की स्क्रीनिंग जादवपुर यूनिवर्सिटी में हुई रद्द.....

शुक्रवार को फिल्म बुद्धा इन ट्रैफिक जाम को लेकर कोलकाता के जादवपुर यूनिवर्सिटी के लेफ्ट और राइट विंग के छात्र आपस में भिड़ गए। लेफ्ट विंग के स्टूडेंट्स नहीं चाहते थे कि अनुपम खेर स्टारर इस फिल्म की स्क्रीनिंग कैंपस में हो। स्क्रीनिंग की पहले परमिशन नहीं दी गई थी। तथा अब सुनने में आ रहा है कि पश्चिम बंगाल के जादवपुर यूनिवर्सिटी में 'बुद्धा इन ए ट्रैफिक जाम' फिल्म की प्रस्तावित स्क्रीनिंग के शो को अब रद्द कर दिया गया। व इस बात कि महत्वपूर्ण जानकारी फिल्म के निर्देशक विवेक अग्निहोत्री ने ट्वीट करके दी है. 

शुक्रवार को जब मूवी दिखाई जाने लगी, तो हिंसा भड़क गई। इस फिल्म के डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री है, जिन्होने हेट स्टोरी को डायरेक्ट किया है। अग्निहोत्री ने कैंपस से ही ट्वीट कर कहा कि मेरी कार पर हमला हुआ है और उन्हें मदद की जरुरत है। बाद में मारपीट और हाथापाई में उनकी कंधे की हड्डी भी टूट गई। निर्देशक अग्निहोत्री ने ट्वीट कर कहा, "मैं #BuddhaInATrafficJam की स्क्रीनिंग के लिए सुबह कोलकाता पहुंचा। लेकिन उन्होंने इसे रद्द कर दिया। अग्निहोत्री ने इसके पीछे जेयू एल्यूमनाई एसोसिएशन की चिट्ठी में बताए गए कारण का जिक्र किया है।

जिसमें "राज्य में चल रहे विधानसभा चुनावों के चलते लगी आचार संहिता" को कारण बताया गया है। अग्निहोत्री ने इसे एक "असंतोषजनक बहाना" बताया है। बीजेपी की स्टूडेंट विंग इस फिल्म का समर्थन कर रही थी। जब कि लेफ्ट वाली पार्टियां एफएएस और डीएसएफ इसका विरोध कर रही थी। एफएएस का आरोप है कि हिंसा एबीवीपी से जुड़े थिंक इंडिया ग्रुप की वजह से हुई। उनका ये भी आरोप है कि घटना में कुछ बाहरी लोग शामिल थे जिन्होंने गर्ल्स के साथ छेड़खानी की। बाद में यूनिवर्सिटी के वीसी सुरंजन दास रात 10 बजे कैंपस पहुंचे।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -