जैक मा की अलीबाबा पर लगा 2.78 अरब डॉलर का जुर्माना, की थी चीन सरकार की आलोचना

शंघाई: चीन के नियामकों ने जैक मा की ई-कॉमर्स की कंपनी अलीबाबा पर 18.2 बिलियन युआन (2.78 बिलियन डॉलर) का जुर्माना लगाया है. कंपनी पर यह पेनल्टी, मार्केट पोजिशन का गलत इस्तेमाल करने के आरोप मे लगाया गया है. न्यूज एजेंसी सिन्हुआ ने बताया है कि मार्केट रेगुलेशन एडमिनिस्ट्रेशन ने दिसंबर में अलीबाबा की जांच आरंभ होने के बाद जुर्माने का आंकलन किया था.

चीन के नियामकों के अनुसार, अलीबाबा ने एकाधिकार विरोधी कानूनों का उल्लंघन किया है. इसके साथ ही मार्केट में अपनी पोजिशन का भी गलत इस्तेमाल किया. सिन्हुआ ने कहा कि नियामकों ने अलीबाबा की 2019 में हुई 459.7 बिलियन युआन बिक्री के चार फीसद के बराबर पेनल्टी लगाई है, जो लगभग 2.78 बिलियन डॉलर है. बता दें कि जैक मा ने गत वर्ष चीन की जिनपिंग सरकार की नीतियों की आलोचना की थी, तभी से वे चीनी सरकार के टारगेट पर आ गए हैं. 

बता दें कि जैक मा ने अक्तूबर, 2020 में किसी मुद्दे पर चीनी सरकार की आलोचना की थी. रिपोर्ट्स के अनुसार, इसके बाद से ही जैक मा की कोई सार्वजनिक मौजूदगी दर्ज नहीं हुई है. जैक मा के बारे में संशय तब और गहरा गया था, जब वे अपने टैलेंट शो 'अफ्रीका के बिजनेस हीरो' के फाइनल एपिसोड में भी नज़र नहीं आए. मा की जगह इस एपिसोड में अलीबाबा के एक अधिकारी ने अपनी मौजूदगी दर्ज कराई थी. इसके बाद पूरे विश्व में जैक मा के लापता होने की बातें उठने लगी थी. इसके बाद जैक मा एक वीडियो कार्यक्रम में दिखाई दिए थे. 

ई-कॉमर्स और डिजिटलीकरण से भारत के ऑटो क्षेत्र में होगी वृद्धि: रिपोर्ट

1,800 करोड़ रुपये के गोदाम कारोबार को बेचने के लिए ब्लैकस्टोन के साथ चर्चा करेगा रियल्टी फर्म दूतावास

दूसरी Covid19 लहर भारतीय बैंकों के लिए जोखिम को बढ़ाती है: फिच रेटिंग्स

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -