23 का जयललिता लेंगी सीएम पद की शपथ

चेन्नई : पांच राज्यों में संपन्न हुए चुनाव में परिणाम सामने आने के बाद अब राज्यों में सरकार गठन के लिए पार्टियां अपनी कवायदें कर रही हैं। तमिलनाडु में एआईएडीएम के को बहुमत मिलने और डीएमके से भी अधिक सीटें मिलने के बाद राज्य में कार्यकर्ता उत्साहित हैं। एआईएडीएमके की महासचिव जे. जयललिता को विधायक दल का नेता चुन लिया गया है। अब वे एक बार फिर मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के लिए तैयार हैं। उन्होंने शनिवार को ही सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया। राजभवन में उनकी भेंट राज्यपाल के रोसैया से हुई।

मुख्यमंत्री जे. जयललिता ने राज्यपाल का उनकी पार्टी द्वारा विधायक दल का नेता चुन लिए जाने का पत्र भी दिया। राज्यपाल ने उन्हें सरकार बनाने के लिए निमंत्रित किया था। दरअसल उनके मंत्रिमंडल में इस बार 28 मंत्री होंगे। जे. जयललिता 23 मई को मद्रास विश्वविद्यालय के शताब्दी सभागार में शपथ ग्रहण करेंगी। उल्लेखनीय है कि एआईएडीएमके के संस्थापक एमजी रामचंद्रन 1947 से 1987 तक मुख्यमंत्री थे।

उनके निधन के बाद उनकी पत्नी जानकी रामचंद्रन ने 5 साल में से बचे हुए कार्यकाल के लिए पार्टी की कमान संभाली थी। जयललिता ने अपने कौशल से पार्टी को उंचाईयों तक पहुंचाया। दरअसल पार्टी ने 232 सीटों पर निर्वाचन लड़ा जिसमं 134 प्रत्याशी जीते और 89 पर डीएमके ने जीत दर्ज की।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -