सीमापुरी में आइटीबीपी के जवान ने की दो किशोरों की रक्षा

Nov 15 2016 08:42 PM
सीमापुरी में आइटीबीपी के जवान ने की दो किशोरों की रक्षा

सीमापुरी: सीमापुरी इलाके में एक पुलिस बूथ के पास सोमवार शाम उस समय अचानक अफरा-तफरी का माहौल बन गया, जब पता चला कि दो किशोर व किशोरी ने खुद को पुलिस बूथ में बंद कर लिया है. उनकी सुरक्षा के लिए बूथ के दरवाजे पर इंडो-तिब्बत सीमा पुलिस (आइटीबीएसपी) के दो जवान ढाल बनकर खड़े थे, जो पुलिस को सूचना देने के बाद पीसीआर के आने का इंतजार कर रहे थे, मगर पुलिस के आने से पहले ही वहां इतने तमाशबीनों की भीड़ लग गई कि आइटीबीएसपी के जवानों रामनिवास मीणा और श्याम सह वोहरा को भी नाबालिगों को बचाने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा.

तमाशबीनों की भीड़ का दबाव लगातार जवानों पर बढ़ रहा था, वहीं कुछ परिचितों का कहना था कि दोनों नाबालिग परिजनों की मर्जी के बिना ऐसे कदम नहीं उठा सकते.

दोनों जवानों ने पुलिस के आने से पहले उन्हें किसी के हवाले करने से साफ मना कर दिया. पुलिस का मौके पर काफी समय बाद पहुंचना भी जवानों के लिए मुसीबत का सबब बना रहा. ऐसे में जब पुलिस की गाड़ी मौके पर पहुंची तो उन्होंने भी राहत की सांस ली और नाबालिगों को पुलिस बूथ से निकालकर वहां से सुरक्षित ले जाया गया. 

चश्मदीदों का कहना था कि यह मामला प्रेम प्रसंग का था, जिसमें किशोरी का पिता किशोर को पीट रहा था और किशोरी उसके साथ ही जाने की बात कहकर पिता का विरोध कर रही थी, वहीं जवानों ने मुताबिक वह बैंक के एटीएम पर विशेष ड्यूटी के तहत आए, मगर बैंक की छुट्टी होने के चलते सोमवार को उनकी ड्यूटी सीमापुरी के इस बूथ पर लगा दी गई थी. इसी बीच उन्होंने देखा कि एक किशोर से कुछ लोग मारपीट कर रहे हैं, जिसके साथ में एक किशोरी भी थी. ऐसे में उन्होंने दोनों की सुरक्षा के लिए बीच बचाव कर पुलिस को सूचित कर दिया.

न्यूड फोटो के कारण खत्म कर ली महिला ने...