फार्मास्युटिकल ग्रुप के 50 ठिकानों पर IT की रेड, 142 करोड़ रुपये बरामद

नई दिल्ली: आयकर विभाग ने 6 अक्टूबर को हैदराबाद स्थित फार्मास्युटिकल ग्रुप के 50 ठिकानों पर छापेमारी की और इस कार्रवाई के दौरान 142 करोड़ रुपये से अधिक की राशि बरामद की. ये छापेमारी की कार्रवाई 6 राज्यों में अलग-अलग ठिकानों पर की गई. CBDT के अनुसार, अभी तक लगभग 550 करोड़ रुपये की बेहिसाब कमाई का पता चला है.

आयकर विभाग के अधिकारियों ने जानी मानी दवा बनाने वाली कंपनी के समूह हेटरो के कार्यालयों व अन्य ठिकानों पर बुधवार को एक साथ रेड मारी. अधिकारियों ने बताया कि कंपनी के हेडक्वार्टर, यहां कुछ उत्पादन केंद्रों और कार्यालयों तथा आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में छापेमारी की गई है. विभाग ने कुछ कागज़ात बरामद किए हैं और कुछ कंप्यूटर हार्ड डिस्क जब्त किए हैं, जिनका विश्लेषण किया जाएगा कि क्या किसी प्रकार की कर चोरी की गई है. समूह द्वारा कई समझौतों पर दस्तखत करने और कोरोना के उपचार के लिए रेमेडिसविर और फेविपिरवीर जैसी विभिन्न दवाएं विकसित करने के कामों में संलग्न होने की वजह से हेटरो सुर्खियों में आया था.

हेटेरो भारत और विदेशों में दवा का फॉर्मूला विकसित करने और नई पीढ़ी के उत्पादों का निर्माण करने वाली फार्मास्युटिकल कंपनियों को एक्टिव फार्मास्यूटिकल इंग्रेडिएंट -एपीआई (साइटोटॉक्सिक्स सहित) मुहैया कराने वाले प्रमुख वैश्विक आपूर्तिकर्ताओं में से एक है. शहर स्थित हेटरो की भारत, चीन, रूस, मिस्र, मैक्सिको और ईरान में 25 में ज्यादा उत्पादन केंद्र हैं.

जम्मू सरकार ने हवाईअड्डा विस्तार के लिए भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण को हस्तांतरित की जमीन

केरल के मुख्यमंत्री ने सबरीमाला हवाईअड्डे को समयबद्ध तरीके से पूरा करने का किया वादा

कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री ने पीएचसी के उन्नयन के लिए अतिरिक्त केंद्रीय धन की मांग की

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -