बिन्स हमारे शरीर के लिए है आवश्यक

बिन्स एक पौष्टिक व आयरन से भरपूर सब्जी है। बिन्स का प्रयोग हर तरह के भोजन के रूप में किया जाता है। बिन्स का प्रयोग हम सलाद के रूप में करते है। बिन्स आपकी सेहत को बेहतर बनाने में कारगर साबित होता है। बिन्स की पत्तिया भी भोजन के रूप में प्रयुक्त की जाती है। बिन्स की पतियों को एवं फली का राजमा भी बनाया जाता है। यह आपके शरीर को तरोताजा करती है। बिन्स में भरपूर मात्रा में प्रोटीन्स होता है जो हमारी सेहत के लिए अत्यंत आवश्यक होता है।

बिन्स में सबसे अधिक विटामिन सी, आयरन, मिनरल, प्रीतिं, वसा, फास्फोरस, कैरोटीन, राइबोफ्लेविन, थायमीन, नियासीनसभी मौजूद होता है जो शरीर को ताकतवतर बनाने के लिए आवश्यक होता है। माना जाता है की सौ ग्राम राजमा से 347 कैलोरी होती है। यह विटामिन बी का एक प्रमुख स्तोत्र है। रदय रोगियों के लिए सबसे फायदेमंद माने जाने वाली बीन्स, घुलनशील फाईबर एक अच्छा स्तोत है। रदय रोगियों को प्रतिदिन एक कप पानी में बिन्स को उबालकर उसका सेवन करने से ह्रदय रोगियों को काफी फायदा होता है।

कहा जाता है की इसका सेवन करने से ह्रदय रोगियों को चालीस प्रतिशत आराम मिलता है। साथ ही बिन्स हार्ट अटैक के खतरे को भी काम करता है क्यों की बिन्स में पोटेशियम, कैल्शि‍यम व मैग्नीशियम की मात्रा अधिक और सोडियम की मात्र बहोत कम होती है जो हमारे शरीर कर रक्त चाप को नियंत्रित करता है। जो व्यक्ति मधुमेह के रोग से ग्रसित वे बिन्स का सेवन करे। क्यों की बिन्स के सेवन से अमर शरीर में रक्त में शर्करा का स्तर कई गुना बाद जाता है। बिन्स में अधिक मात्र में फाइबर मौजूद होता है जो हमारे शरीर में शर्करा के स्तरको नियंत्रित करता है।

मधुमेह के रोगियों को बिन्स के रस का सेवन करना चाहिए। यदि आप पथरी की समस्या से परेशान है तो बिन्स की पतियों को उबालकर उसका पानी पिने से पथरी की समस्या से छुटकारा मिलता है। अदि आप मूत्र संबधी समस्या से परेशान है तो बिन्स का सेवन करे साथ ही बिन्स रूमेटिक, आर्थ्राइटिसजैसी बीमारियो में भी काम आता है। बिन्स त्वचा व कोशिकाओ के लिए भी अच्छी मानी जाती है। बिन्स स्तन कैंसर के खतरे को भी कम करता है । बिन्स का सेवन करने वाले व्यक्तियों को कभी भी दांत सम्बन्धी व हड्डियों की समस्या नहीं होती है

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -