गाज़ा के स्कूल पर इजराइल का हवाई हमला, 27 लोगों की मौत

गाज़ा के स्कूल पर इजराइल का हवाई हमला, 27 लोगों की मौत
Share:

यरूशलम: गाजा के एक स्कूल पर इजरायली हवाई हमले में करीब 27 लोग मारे गए। इजरायल का दावा है कि इस परिसर में फिलिस्तीनी आतंकीस संगठन हमास के उग्रवादी छिपे हुए थे। हालांकि, स्थानीय मीडिया ने कहा कि स्कूल परिसर में चल रहे युद्ध के कारण विस्थापित हुए लोगों को शरण दी जा रही थी। इजराइल ने दावा किया कि मध्य गाजा के नुसेरात में संयुक्त राष्ट्र के स्कूल में हमास का एक गुप्त कमांड पोस्ट था। 

उसने कहा कि इस परिसर में हमास के लड़ाके रहते थे जो 7 अक्टूबर, 2023 को इजराइल पर हमला करने में शामिल थे, जिसके बाद युद्ध शुरू हुआ, जो अब अपने 8वें महीने में है। इज़रायली सेना ने कहा कि लड़ाकू विमानों के हमले से पहले नागरिक हताहतों की संख्या कम करने के लिए कदम उठाए गए थे। हालाँकि, हमास द्वारा संचालित सरकारी मीडिया कार्यालय के निदेशक इस्माइल अल-थावाब्ता ने इजरायल के दावों को खारिज कर दिया। थ्वाब्ता ने मीडिया को बताया, "कब्जाधारी सरकार दर्जनों विस्थापित लोगों के विरुद्ध किए गए क्रूर अपराध को उचित ठहराने के लिए झूठी मनगढ़ंत कहानियों के माध्यम से जनता की राय को झूठा साबित कर रही है।"

यह घटनाक्रम ऐसे समय में हुआ है जब इजराइल ने कहा है कि युद्ध विराम वार्ता के दौरान लड़ाई नहीं रुकेगी। बुधवार को हमास नेता इस्माइल हनियेह ने कहा कि समूह गाजा में युद्ध की स्थायी समाप्ति और युद्ध विराम योजना के तहत इजरायल की वापसी से कम किसी भी बात पर सहमत नहीं होगा। हनियाह के हवाले से कहा कि, "आक्रमण के आंदोलन और गुट किसी भी समझौते को गंभीरता और सकारात्मकता से लेंगे, जो आक्रमण के व्यापक अंत और पूर्ण वापसी तथा कैदियों की अदला-बदली पर आधारित हो।"

हनीयेह की टिप्पणी को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन की गाजा में युद्ध समाप्त करने की तीन-चरणीय योजना की प्रतिक्रिया के रूप में देखा गया। इस योजना में "स्थायी युद्धविराम" और गाजा से इजरायल की वापसी शामिल है, बशर्ते हमास सभी बंधकों को रिहा कर दे। इस बीच, रिपोर्ट के अनुसार, फिलिस्तीनी क्षेत्रों में युद्ध के बाद की व्यवस्था के लिए हमास और फिलिस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास की फतह पार्टी के बीच जून के मध्य में चीन में वार्ता होने की संभावना है। चीन और रूस में सुलह वार्ता के दो दौर पहले ही आयोजित हो चुके हैं।

चंद्रबाबू नायडू का शपथ ग्रहण टला, अब इस तारीख को हलफ उठाएंगे आंध्र के CM

'भले ही हारा हूं, लेकिन कहीं नहीं जाऊंगा', बोले नकुलनाथ

MP में हुआ बकरों का रैंप वॉक! 177 किलो का 'King' बना शो स्टॉपर, इतनी लगी कीमत

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -