मारा गया दिल्ली बम ब्लास्ट का मास्टरमाइंड, हसन सैयद को घर के बाहर ही मारी गई 5 गोली

नई दिल्ली: 10 वर्षों के बाद 2012 में दिल्ली में हुए कार ब्लास्ट में एक इजरायल राजनयिक को टारगेट बनाया गया था। इस आतंकी हमले की साजिश ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड कोर (IRGC) के कर्नल ‘हसन सैयद खोदयारी’ ने रची थी। अब खबर है कि ईरान की राजधानी तेहरान में घुसकर इजरायल की खुफिया एजेंसी मोसाद ने हसन की हत्या कर दी है। ईरान इंटरनेशनल ने उसकी मौत की पुष्टि की है। उसे आज मंगलवार (24 मई 2022) को तेहरान में ही सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा।

जानकारी के अनुसार, कई हाई प्रोफाइल इजरायली राजनयिकों पर हुए हमलों के पीछे यही कर्नल मुख्य साजिशकर्ता था। उसने साल 2012 में दिल्ली में धमाका करवाया था, ताकि वो इजरायल राजनियक को मार सके। इस हमले में राजनयिक की पत्नी जख्मी हुई थीं और उनका ड्राइवर व दो अन्य नागरिकों को भी हल्की चोटें आईं थीं। घटना के बाद थाईलैंड में भी इजरायल अधिकारियों को मारने के लिए सिलसिलेवार तरीके से बमबारी हुई थी, जिसका आरोप खोदयारी पर लगा था। इसके साथ ही इजरायल, तुर्की, केन्या, कोलंबिया और सिपरस में हुई इजरायलियों की हत्या और किडनैपिंग में भी उसका हाथ बताया जाता है।

बता दें कि अभी इस बात की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है कि मोसाद ने ही हसन सैयद की हत्या की है। मगर, पिछले रिकॉर्ड देखकर यही अनुमान लगाया जा रहा है कि ये काम इजरायल की खुफिया एजेंसी ने ही किया है। वहीं, ईरान के राष्ट्रपति ने भी हलफ उठाई है कि वो खोदयारी की हत्या का बदला लेंगे। रिपोर्ट्स के अनुसार, हसन को उसके घर के बाहर गोली मारी गई थी। हमलावर बाइक से आए थे। उन्होंने हसन के सीने में 5 गोली मारी। जब तक कोई वहाँ आसपास से पहुँच पाता तब तक हमलावर भाग चुके थे।

जींद में दर्दनाक हादसा, ट्रक और पिकअप की टक्कर में 6 लोगों की दर्दनाक मौत, 17 गंभीर घायल

मंकीपॉक्स के फैलने से रोकने के लिए तमिलनाडु ने सभी जिला कलेक्टरों को हाई अलर्ट पर रहने का आदेश दिया

क़ुतुब मीनार में मिलेगी पूजा की अनुमति ? सुनवाई पूरी, साकेत कोर्ट इस तारिख को सुनाएगी फैसला

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -