18 वर्ष की यजीदी लड़की ने सुनाई ISIS की खौफनाक दास्तां

By Lav Gadkari
Sep 03 2015 03:05 PM
18 वर्ष की यजीदी लड़की ने सुनाई ISIS की खौफनाक दास्तां

पेरिस : इस्लामिक स्टेट आॅफ ईराक के आतंकियों द्वारा किस कदर छोटी-छोटी लड़कियों और महिलाओं का सेक्स स्लेव्स के तौर पर उपयोग किया जाता है कि इस बात का पता 18 वर्ष की यजीदी लड़की की कहानी सुनकर लगता है। हाल ही में इस लड़की के जीवन पर आधारित एक पुस्तक का प्रकाशन किया गया। जिसमें इस लड़की के साथ बीती हुई बातों की जानकारी दी गई है। इस यजीदी लड़की का नाम जिनान है और उसे आतंकियों द्वारा वर्ष 2014 में बंधक बनाया गया था। 

बीते 3 माह तक आतंकियों के चंगुल में निवास करने के बाद जिनान वहां से भाग निकली और जिनान ने अपनी आपबीती सुनाते हुए यह कहा कि 3 माह पूर्व आतंकियों ने बलात्कार किया। यही नहीं आतंकियों ने इस लड़की को पानी में मरा हुआ चूहा डालकर दिया और वही पीने के लिए उसे मजबूर किया गया। जब उसने इस्लाम अपनाने से इंकार कर दिया तो उसे जंजीरो से बांधकर रखा गया और तेज धूप में बिठा दिया गया। 

इसके बाद इस लड़की को पीटा जाता था। उसके साथ आतंकी अच्छा बर्ताव नहीं करते थे और वे सदैव नशे में रहते थे. आईएसआईएस के आतंकियों का कहना था कि पूरी दुनिया में आईएसआईएस का राज होगा। इस लड़की ने कहा कि इस संगठन में युवतियों की खरीद फरोख्त होती है। दरअसल आंखों और चमड़ी के रंग के आधार पर लड़कियों की डिमांड की जाती है। जो लड़कियां सुंदर होती हैं उन्हें अमीर या फिर जिहादियों के आकाओं के लिए रख लिया जाता है।