आईएसआई फोन काॅल से कर रही घुसपैठ

Jan 05 2016 02:24 PM
आईएसआई फोन काॅल से कर रही घुसपैठ

जैसलमेर : राजस्थान के सुरक्षा प्रतिष्ठानों को खुफिया एजेंसियों ने निर्देश दिए कि बिना किसी तरह की जांच के किसी को भी नंबर न दिए जाऐं। अंग्रेजी समाचार पत्र में एक रिपोर्ट का प्रकाशन किया गया जिसमें यह कहा गया कि आईएसआई की ओर से रक्षा प्रतिष्ठानों में इंटरनेट काॅल किए जा सकते हैं। यही नहीं जिला पुलिस की ओर से सुरक्षा अधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई करने और अलर्ट पर रहने के निर्देश भी जारी किए गए हैं।

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई द्वारा बीएसएनएल के दफ्तर के कर्मचारियों से इंटरनेट काॅल के माध्यम से सुरक्षा अधिकारियों और जवानों के लैंड लाईन नंबर प्राप्त करने के प्रयास किए गए। बीएसएनएल के दफ्तर में भी ऐसे ही काॅल आए। यह समय वर्ष 2015 में पोकरण में हुए युद्धाभ्यास का था। टेलीकाॅम अधिकारी द्वारा युद्धाभ्यास के तहत आर्मी यूनिट को कुछ नंबरों पर प्लाॅट उपलब्ध करवाए गए। इसके बाद पाकिस्तान ओर से बीएसएनएल एकाउंट डिवीजन को काॅल किया।

काॅल करने वाले ने अपनी लोकेशन दिल्ली बताई जबकि उसने काॅल पाकिस्तान से किया था। यही नहीं उसने अधिकारियों के नंबर मांगे और सेना की लोकेशन भी पूछी। हालांकि जिसने भी काॅल रिसीव किया उसे यह जानकारी नहीं थी कि पाकिस्तान से इंटरनेट काॅल किए जा रहे हैं।

मगर जानकारी लगते ही सुरक्षा का अलर्ट जारी कर दिया गया है। अब यही निर्देश जारी किए गए हैं कि किसी भी तरह के काॅल पर खुफिया जानकारी न दी जाए। साथ ही संवेदनशील क्षेत्रों में फोन और कैमरा लेकर जाने वाले जवानों पर भी नज़र रखी जाएगी।