सीरिया में भयंकर नरसंहार, ISIS ने 300 को उतारा मौत के घाट

Jan 18 2016 09:49 AM
सीरिया में भयंकर नरसंहार, ISIS ने 300 को उतारा मौत के घाट

बेरुत : सीरिया में चल रहे गतिरोधों के बीच सीरियाई सरकार ने रविवार को कहा कि खूंखार आतंकी संगठन आईएसआईएस ने सीरिया के पूर्वी शहर दीर अलजोर में अंजाम दिया है, जिसमें करीब 300 लोगों की जानें ली गई है। इससे यह साफ होता है कि यह चरमपंथी दल इस क्षेत्र में बहुत आगे बढ़ रहा है। सरकारी न्यूज एजेंसी सना ने बताया कि रविवार को हुए हमले में मरने वालों में ज्यादातर बुजुर्ग, महिलाएं व बच्चे शामिल थे। दूसरी ओर विपक्षी कार्यकर्ताओं का कहना है कि मृतकों में ज्यादातर सीरिया के सैनिक और सरकार का समर्थन करने वाले मिलिशिया और उनके परिवार के लोग थे। कहा जा रहा है कि यह अब तक का सबसे क्रूर नरसंहार है।

बता दें कि इस समूह का नियंत्रण सीरिया और इराक के बड़े हिस्सों पर है और इसने दोनों देशों के लोगों की हत्या तो की ही है, उनके जीवन को भी तहस-नहस कर दिया है। ब्रिटेन की सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने कहा कि कम से कम 135 लोग मारे गए, जिनमें से 80 सैनिक और सरकार समर्थक मिलिशियाई व अन्य नागरिक थे। संस्था ने बताया कि उनमें से कइयों के सिर में गोली मारी गई और कइयों के सिर कलम कर दिए गए।

इस्लामिक स्टेट से संबद्ध समाचार एजेंसी आमक ने कहा कि दीर अलजोर में बड़े पैमाने पर हमले हुए, जिसकी शुरुआत फिदायीन हमले से हुई। इससे पहले भी सीरिया सरकार ने कहा था कि आतंकी संगठन ने सीरिया के पूर्वी शहर डेर इजोर में हमले करके एक नए क्षेत्र पर अपना कब्जा कर लिया है। जिसके लिए 400 नागरिकों का अपहरण किया गया है। रुसी वायुसेना सितंबर माह से ही हमले कर रही है। उधर अमेरिकाई नेतृत्व वाला गठबंधन एक साल से अधिक समय से सीरिया में कारर्वाई कर रहा है। इसके बावजूद यह ताजा हमला प्रकाश में आया है।

सीरिया में अब तक सबसे भयंकर नरसंहार, ने 300 को उतारा मौत के घाट मॉनिटर की मानें तो इस हमले में आईएस के कम से कम 42 लड़ाके मारे गए है और फिलहाल लड़ाई जारी है। सरकार का समर्थन करने वाले रुसी हवाई हमलों की मदद से खोई हुई जमीन को वापस पाने का प्रयास कर रहे है।