बिना हिजाब के नज़र आई ISIS की 'जिहादी दुल्हन' शमीमा, बोली- मर जाउंगी, लेकिन आतंकियों के पास..

नई दिल्ली: पूरे विश्व में ‘जिहादी दुल्हन’ के नाम से मशहूर हुई शमीमा बेगम ने अब ISIS से तौबा कर ली है। अब शमीमा बेगम अपने किए ​गए कामों पर पछता रही हैं। उसने ‘गुड मार्निंग ब्रिटेन’ शो के लाइव इंटरव्यू में कहा कि वह आतंकियों के पास जाने की जगह मरना पसंद करेगी। शमीमा ने ब्रिटेन के लोगों से क्षमा माँगते हुए कहा कि वह अपने देश आकर आतंकवाद के सभी मामलों का सामना करने के लिए तैयार है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, ब्रिटेन से भागकर वर्ष 2014 में आतंकी संगठन ISIS में शामिल हुई शमीमा बेगम की आयु उस समय सिर्फ 15 साल की थी। उसने वहाँ पर ISIS के एक आतंकी के साथ निकाह कर लिया था और उसके साथ जिहाद में शामिल हो गई। इस शादी से उसे 2 बच्चे पैदा हुए थे। रिपोर्ट के मुताबिक, एक विशेषज्ञ ने कहा कि शमीमा बेगम ‘वेस्टर्नाइज्ड’ दिखने का प्रयास कर रही हैं। शमीमा बेगम ने ITV प्रसारक के ‘गुड मार्निंग ब्रिटेन’ शो में कहा कि, 'मैं ब्रिटेन के लोगों से माफी माँगती हूँ। मैंने बहुत ही कम आयु में एक बड़ी गलती की थी और उस उम्र के ज्यादातर बच्चों को पता भी नहीं होता है कि उन्हें अपने जीवन में क्या करना है। इस उम्र में ज्यादातर बच्चे भ्रमित हो जाते हैं और वे आसानी से इस तरह की चीजों के झाँसे में आकर आसानी से बेवकूफ बन जाते हैं।'

इस दौरान ‘गुड मॉर्निंग ब्रिटेन’ शो में 22 वर्ष की पूर्व ISIS दुल्हन काले रंग की नाइके बेसबॉल टोपी, ग्रे वेस्ट टॉप और लिपस्टिक लगाए हुए खुले बालों में बात करते हुए नज़र आईं। उसका लुक इस बार पिछले इंटरव्यू की तुलना में बिल्कुल अलग था, जिसमें वह हिजाब और बगैर मेकअप के नज़र आती थी।

Spacex: आज से शुरू हुआ स्पेस टूरिज्म, चार आम नागरिकों को लेकर अंतरिक्ष में रवाना हुआ रॉकेट

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान एससीओ शिखर सम्मेलन के लिए करेंगे ताजिकिस्तान का दौरा

'इस्लाम में महिलाओं की खेलकूद हराम...', तालिबान से जान बचाकर 32 महिला फुटबॉलर पहुंची पाकिस्तान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -