'क्या भाजपा में कोई मर्द नहीं है, जो माफी मागें...' सुप्रीम कोर्ट का फैसला आते ही इस नेता ने दिया बयान

नई दिल्ली: पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी करने वालीं नूपुर शर्मा को सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) ने कड़ी फटकार लगाई है। सर्वोच्च न्यायालय ने उन्हें टीवी पर जाकर पूरे देश से माफी मांगने के लिए बोला है। यही नहीं अदालत ने सख्त टिप्पणी करते हुए कहा है कि आपको खतरा नहीं है बल्कि पूरे देश को आपके बयान से खतरा उत्पन्न हो गया है। यही नहीं सर्वोच्च न्यायालय ने कहा कि आज जो देश में स्थिति पैदा हो गई हैं, उदयपुर में जो घटना हुई है, उसके पीछे आपका बयान ही है। इसके चलते लोग उकसावे में आए हैं। सुप्रीम कोर्ट की सख्ती टिप्पणियों पर अब सियासी दलों की भी प्रतिक्रिया आने लगी हैं।

वही कांग्रेस की महिला नेता रेणुका चौधरी (Renuka Chaudhary) ने इस मामले में बीजेपी की लीडरशिप को ही घेरा है। उन्होंने कहा कि इस पूरी घटना में बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व को ही कान पकड़कर माफी मांगनी चाहिए। रेणुका चौधरी ने कहा, 'इस मामले में क्या बीजेपी माफी नहीं मांगेगी। यह बुनियाद तो उसकी तरफ से ही रखी गई है। बीजेपी को देश के अल्पसंख्यकों से माफी मांगनी चाहिए। उन्हें कान पकड़ने चाहिए, नहीं तो आपके हालात भी ऐसे ही होंगे। बीजेपी ने घूम फिरकर महिला को बलि का बकरा बना दिया है। क्या बीजेपी में कोई मर्द नहीं है, जो आगे आकर माफी मांग ले। इन लोगों को तो चुल्लू भर पानी में डूब मरना चाहिए।' 

रेणुका चौधरी ने कहा कि नूपुर शर्मा ने जो बोला, वह गलत है। क्या बीजेपी जिम्मेदार नहीं है तथा उससे पल्ला झाड़ लिया गया है। कभी तो आप आगे बढ़कर सच कबूल करना सीख लो। मैंने सोचा कि बीजेपी में मर्द हैं, किन्तु शायद कोई नहीं है। रेणुका से पहले कांग्रेस के ही राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी (Pramod Tiwari) ने भी बीजेपी पर हमला बोला। उन्होंने कहा, 'अब तो कम से कम देश से माफी मांग लें नूपुर शर्मा। सर्वोच्च न्यायालय ने बड़ी बात कही है कि दिल्ली पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई क्यों नहीं की है। इस पर अब बीजेपी के सर्वोच्च नेतृत्व को माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने अपनी प्रवक्ता के माध्यम से देश को आग में झोंकने का काम किया था।'

'सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी से नूपुर शर्मा को जान का ख़तरा..', जानिए किसने कही ये बात

भारत, पाकिस्तान ने कैदियों की सूची का आदान-प्रदान किया

मणिपुर: भूस्खलन में मरने वालों की संख्या बढ़कर 10 हुई, 55 अब भी लापता

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -