उत्तराखंड के जंगलों में लगी आग ने लिया विकराल रूप

देहरादून : उत्तराखंड में गर्मी चरम पर है, इसी कारण जंगलों की आग ने भी विकराल रूप ले लिया है। आग से जंगल लगातार जल रहे हैं, जिस कारण वन संपदा को खासा नुकसान हुआ है। पौड़ी जिले के श्रीनगर में विकासखंड कीर्ति नगर के अंतर्गत राजकीय इंटर कॉलेज खोला कडकोट आग की चपेट में आ गया। आग से विद्यालय के तीन कक्ष जल गए, विद्यालय का फर्नीचर भी जलकर राख हो गया। 

बोकारो के तालाब में नहाने के दौरान डूबने से दो भाइयों समेत तीन की मौत

इस तरह लगी जंगल में आग 

जानकारी के मुताबिक वन विभाग के अनुसार किसी महिला ने विद्यालय के नजदीक सूखी घास में आग लगाई थी, जिसने स्कूल को अपनी चपेट में ले लिया। अल्मोड़ा में आग बुझाते वक्त एक कर्मचारी झुलस गया। रुद्रप्रयाग जिले की रुद्रप्रयाग रेंज में आग लगाने के आरोप एक व्यक्ति को पकड़ा गया। उससे 20 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है। राज्यभर में जगह-जगह जंगल सुलग रहे हैं। धुंए से पहाड़ों में धुंध की चादर भी पसरी हुई है।

कार्यभार संभालने के बाद विदेश मंत्री जयशंकर ने किया एक ऐसा ट्वीट
 
इस कारण जंगल में फ़ैल गई आग 

इसी के साथ शुक्रवार को दिन में कालीमठ और बिनसर के जंगल में अचानक आग लग गई। सूचना मिलने पर वन विभाग, प्रशासन और दमकल विभाग की टीम मौके पहुंच गई। वन क्षेत्राधिकारी संचिता वर्मा ने बताया कि आग से काफी मात्रा में वन संपदा को नुकसान पहुंचा है। अग्निशमन अधिकारी ने बताया कि कसारदेवी और बिनसर दोनों जगहों पर जंगल में लगी आग बुझाने के लिए दमकल वाहन भेजा गया है। हवा के कारण आग लगातार फैल रही है। उन्होंने बताया कि गुरुवार दोपहर के समय बिनसर के जंगल में आग लग गई थी। आग की चपेट में आने से करीब डेढ़ हेक्टेयर क्षेत्रफल में वन संपदा जल गई।

ये ख़ास बाइक देती है 80 से ज्यादा का माइलेज

चुनाव बाद आज होगी जयराम सरकार की कैबिनेट बैठक, कई योजनाओं को मिल सकती है मंजूरी

जीप और ट्रक में जोरदार भिड़ंत में बच्चे को गवानी पड़ी अपनी जाम

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -