इराक में भीषण हादसा, नाव पलटने से 70 लोगों की मौत

Mar 22 2019 09:51 AM
इराक में भीषण हादसा, नाव पलटने से 70 लोगों की मौत

मोसुल: इराक के मोसुल के पूर्व जिहादी गढ़ में कुर्दिश नव वर्ष का जश्न मना रहे परिवारों के साथ भरी हुई एक नाव सूलन नदी में गुरुवार को डूब गई। इराक में हुए अब तक के सबसे भीषण नाव हादसे में 70 लोगों की मृत्यु हो गई है, जबकि 55 लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया है। इस दुर्घटना ने उन निवासियों में मातम छा गया है, जिन्होंने हाल ही में उत्तरी शहर से आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट संगठन के हटने के बाद टाइग्रिस के तट पर उत्सव आरंभ किया था।

विराट तोड़ेंगे या नहीं सचिन का विश्व रिकॉर्ड, कैलिस ने दिया इतना चौंकाने वाला जवाब

पोत एक लोकप्रिय पिकनिक इलाके में जाने के लिए टाइग्रिस नदी को पार करने वाले पुरुषों, महिलाओं और बच्चों के साथ नाव में बिठाया गया था। 'यह एक आपदा है, किसी को इसकी आशंका नहीं थी', एक युवा ने कहा है जो तट पर पहुंचने में सफल रहा था। नाव पर कई सारे लोग थे, ख़ासकर महिलाएं और बच्चे', उन्होंने एजेंसी को जानकी दी। आंतरिक मंत्रालय के प्रवक्ता साद मान के मुताबिक, इस हादसे में सत्तर लोगों की मौत हो गई है, जबकि 55 लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया है। मोसुल में स्थित एक अन्य सुरक्षा अधिकारी ने एएफपी को जानकारी देते हुए बताया है कि नाव इसलिए डूब गई, क्योंकि उसमें सौ से ज्यादा यात्री सवार थे।

यहां से हर माह कमाए 62 हजार रु, सीनियर रेजिडेंट के लिए निकली भर्तियां

अधिकारियों ने कई दिनों तक भारी बारिश होने के बाद मोसुल बांध से पानी छोड़े जाने की वजह से लोगों को सावधान रहने के लिए भी कहा था, जिससे नदी का स्तर बढ़ गया था। वसंत के पहले दिनों के लिए वन इलाके में आने वाले सैकड़ों लोग नदी के तट पर जमा हो गए क्योंकि आपदा सामने आ गई थी। एम्बुलेंस और पुलिस वाहनों ने मृतकों और घायलों को उपचार हेतु शहर के अस्पतालों में पहुंचाया। इससे पहले इराक की आखिरी बड़ी नाव दुर्घटना मार्च 2013 में हुई थी, जिसमें पांच लोगों की मौत हो गई थी।

खबरें और भी:-

लंदन में गिरफ्तार हुआ 13 हजार करोड़ का घोटालेबाज मोदी, जल्द होगी कोर्ट में पेशी

वर्ल्ड बैडमिंटन रैंकिंग में लक्ष्य ने लगाई जोरदार छलांग

आखिर चीन ने स्वीकारा, मुंबई आतंकी हमला था 'अति कुख्यात’