सलमान रुश्दी की हत्या के ईनाम के लिए ईरानी मीडिया समूह ने जमा किए 6 लाख डॉलर

सलमान रुश्दी की हत्या के ईनाम के लिए ईरानी मीडिया समूह ने जमा किए 6 लाख डॉलर

लंदन : भारतीय मूल के विवादास्पद लेखक सलमान रुश्दी की हत्या के लिए ईरान की कट्टरपंथ मीडिया समूहों ने ईनाम के तौर पर 6 लाख डॉलर की रकम जुटाई है। 27 साल पहले ईरान में ईरान के सर्वोच्च नेता आयातुल्ला खोमेनी की ओऱ से रुश्दी के खिलाफ फतवा जारी किया गया था। फतवे के मुताबिक 40 संगठनों ने रकम में बढ़ोतरी के लिए धन एकत्रित किया था।

इन संगठनों में कई मीडिया इकाइयां भी शामिल है। रुश्दी के खिलाफ फतवा उनकी द सैनेटिक वर्सेज नामक किताब के कारण लगाई गई थी। समाचार एजेंसी फार्स के संपादकीय दल के एक वरिष्ठ पत्रकार ने कहा कि रुश्दी के खिलाफ जो फतवा जारी किया गाय है, वो धार्मिक फतवा है, जिसे कोई भी खत्म नहीं कर सकता।

यह पहले भी था, आज भी है औऱ हमेशा रहेगा। 27 पहले रुश्दी के खिलाफ फतवा जारी करने पर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ईरान की बहुत आलोचना हुई थी। ब्रिटेन ने ईरान से करीब एक दशक तक के लिए राजनीतिक संबंध तोड़ लिए थे। 1998 में दोनों के बीद फिर से राजनयिक संबंधों की शुरुआत हुई।